भारत की पहली महिला डॉक्टर आनंदी गोपाल जोशी को Google ने दिया सम्मान

0
32

नई दिल्ली: गूगल ने भारत की पहली महिला डॉक्टर आनंदी गोपाल जोशी की 153वीं जयंती को शनिवार (31 मार्च) को डूडल बनाकर सेलिब्रेट किया. गूगल ने आनंदी गोपाल जोशी के ऊपर डूडल बनाया है. जिसमें वह साड़ी पहने और गले में स्टेथोस्कोप डाले हुए दिख रही हैं और हाथ में डिग्री नुमा कागज पकड़ रखा है.

आनंदी उस दौर में डॉक्टर बनीं जब समाज की सोच महिला शिक्षा को लेकर खास व्यापक नहीं थी. आनंदी को उस दौर के शिक्षा विरोधी मानस का सामना भी करना पड़ा. उन्होंने पारिवारिक स्तर पर अपनी आवाज बुलंद की.

आनंदीबाई जोशी का जन्म 31 मार्च 1865 को पुणे में हुआ था. इनका सिर्फ 9 साल की उम्र में विवाह कर दिया गया. लेकिन सामाजिक कुरीतियों और रुढ़िवादी सोच को तोड़कर उन्होंने ना सिर्फ भारत की पहली महिला डॉक्टर का दर्जा प्राप्त किया, बल्कि अमेरिका से डॉक्टर की डिग्री प्राप्त कर विदेश से पढ़ने वाली महिला भी बनी.

बेटे की मौत ने बना दिया डॉक्टर-

महज 14 साल की उम्र में उन्होंने एक बच्चे को जन्म दिया, जिसकी 10 दिनों में ही मौत हो गई. इस सदमें से आनंदीबाई जोशी से डॉक्टर बनने का निश्चय लिया और 1886 में डॉक्टर बनी. उनके इस उद्देश्य में उनके पति गोपालराव ने भी खूब साथ दिया. डिग्री पूरी करने के बाद जब आनंदीबाई भारत वापस लौटीं तो उनका स्वा स्य् स बिगढ़ने लगा और मात्र 22 वर्ष की अल्पाीयु में टीबी की वजह से उनकी मृत्युौ हो गई. यह सच है कि आनंदीबाई ने जिस उद्देश्यऔ से डॉक्टिरी की डिग्री ली थी, उसमें वे पूरी तरह सफल नहीं हो पाई, परन्तु उन्होंनने समाज में वह स्थान प्राप्त किया, जो आज भी एक मिसाल है.

पति ने ही दी प्रेरणा-

आनंदी के पति का नाम गोपाल राव जोशी था. वो आनंदी का काफी ध्यान रखते थे. खास बात ये है कि गोपाल राव ही वो शख्स थे जिन्होंने आनंदी को शिक्षा के लिए प्रेरित किया. गोपाल का यह फैसला काफी साहसिक था. इसकी वजह ये थी कि उस दौर में ना तो महिलाओं की शिक्षा को महत्व दिया जाता था और ना ही वो खुद इसके लिए ज्यादा साहस जुटा पाती थीं.

तीन भाषाओं में शिक्षा-

गोपाल खुद काफी शिक्षित थे. उन्होंने आनंदी को मराठी, संस्कृत और अंग्रेजी की शिक्षा दी. ये तीनों ही भाषाएं आनंदी को पढ़ना लिखना सिखाया गया. गोपाल ने आनंदी को कोलकाता भेज दिया. ताकि वो परिवार के दखल से दूर रहकर आगे की शिक्षा हासिल कर सकें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here