मुंबई और बेंगलुरु जैसे शहरों से आगे निकलेगा उत्तर प्रदेश: सीएम योगी

0
24

लखनऊ: अपनी सरकार के एक साल पूरे होने पर सीएम योगी ने अपनी उपलब्धियों पर ही फोकस किया. उन्होंने कहा कि ‘उत्तर प्रदेश में सांस्कृतिक धरोहरों के रूप में बड़ी संभावनाएं हैं.

अयोध्या, मथुरा और काशी को ही यदि पर्यटन के नजरिए से बढ़ाया जाए तो ये पूरे प्रदेश को बदल देंगे. मुंबई और बेंगलुरु जैसे शहरों से हमारे ये नगर आगे निकल जाएंगे.’

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की यह बड़ी उपलब्धि है कि वह उत्तर प्रदेश के प्रति धारणा बदलने में सफल हुई है. जंगलराज, अराजकता और गुंडागर्दी की पहचान खत्म हुई है. उद्यमियों के लिए माहौल बना है.

वह दावा करते हैं कि सरकार में टॉप स्तर पर भ्रष्टाचार रुका है, जिसका संदेश नीचे तक जाएगा और वहां भी भ्रष्टाचार खत्म होगा. योगी सदन में कहे गए अपने इस वाक्य पर कि ‘मैैं हिंदू हूं, ईद नहीं मनाता’ को अपनी व्यक्तिगत पहचान से जोड़ते हैं और कहते हैं कि में आडंबर नहीं कर सकता.

उन्होंने कहा कि में हर धर्म को उसके पर्व व त्योहार मनाने के लिए सुरक्षा-सुरक्षा तो दे सकता हूं, लेकिन घर में टीका लगाने के बाद बाहर टोपी नहीं पहन सकता. यह मेरी आस्था का प्रश्न है. मेरा मानना है कि सेक्युलरिज्म सर्व धर्म समभाव का प्रतीक है और हिंदू से अधिक सेक्युलर कोई नहीं.

अयोध्या में कभी मस्जिद थी ही नहीं : शंकराचार्य

सीएम योगी गोरखपुर और फूलपुर के उप चुनाव को सबक तो मानते हैं, लेकिन साथ ही यह भी कहते हैं कि यह जनादेश नहीं है. स्वीकार करते हैं कि कार्यकर्ता अति आत्मविश्वास में गफलत खा गए. वह सपा-बसपा के गठबंधन को भी चुनौती नहीं मानते और कहते हैं कि कोई दल अपने शत-प्रतिशत मतों का ट्रांसफर नहीं कर सकता. फिर अभी तो उनका नेता भी तय नहीं है.

एक साल के कामकाज की उपलब्धियों को गिनाते हुए योगी आदित्यनाथ कहते हैं कि सरकार ने किसानों को विकास के केंद्र में रखा है. उनके लिए कई योजनाएं शुरू की गईं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here