अदार पूनावाला ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और एस जयशंकर को कहा थैंक्यू, साथ ही जताई ये उम्मीद

0

नई दिल्ली: टीका बनाने वाली कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अदार पूनावाला ने शुक्रवार को नीति में बदलाव को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और विदेश मंत्री एस जयशंकर को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि इस बदलाव से भारत और दुनिया में कोविड-19 टीके उत्पादन में तेजी आएगी.

अमेरिका में कोविड-19 टीकों की उपलब्धता को लेकर भरोसे के बाद बाइडेन सरकार ने कोविड19 के एस्ट्राजेनका, नोवावैक्स और सनोफी टीकों के निर्यात पर रक्षा उत्पादन अधिनियम के तहत लागू नियंत्रण हटा दिए हैं.

कंपनियां तीनों टीके बनाती रहेंगी. इस कदम से अमेरिकी कंपनियां जो इन टीकों के निर्माताओं को आपूर्ति करती हैं, वे स्वयं निर्णय ले सकेंगी कि किस आर्डर को पहले पूरा करना है.

व्हाइट हाउस कोविड-19 ‘रिस्पांस टीम’ और स्वास्थ्य अधिकारियों के प्रेस को जारी बयान का लिंक साझा करते हुए पूनावाला ने ट्विटर पर लिखा है, ‘‘पोटस (अमेरिकी राष्ट्रपति)व्हाइट हाउस, डा. एस जयशंकर ने जो प्रयास किये, उसके लिये उन्हें धन्यवाद. उम्मीद है कि नीति में बदलाव से कच्चे माल की आपूर्ति भारत और दूसरे देशों को बढ़ेगी. टीका उत्पादन की क्षमता बढ़ेगी और महामारी के खिलाफ हमारा अभियान मजबूत होगा.’’

इससे पहले, पूनावाला ने अप्रैल में लिखा था, ‘‘आदरणीय राष्ट्रपति जी, अगर हम वाकई में वायरस के खिलाफ एकजुट हैं तो अमेरिका के बाहर के टीका उद्योग की तरफ से, मैं आपसे विनम्र आग्रह करता हूं कि अमेरिका के बाहर कच्चे माल के निर्यात पर लगी आधिकारिक पाबंदी हटा लें. ताकि टीका उतपादन बढ़ाया जा सके….’’

स्पूतनिक-V वैक्सीन बनाने के लिए कुछ शर्तों के साथ DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया को दी इजाजत