आज है हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का 119वां जन्मदिवस, भारतीय हॉकी को दिलाई थी नई पहचान

0

National Sports Day 2021: 29 अगस्त को पूरा देश हॉकी इतिहास के सबसे बेहतरीन खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद को याद कर रहा है. आज मेजर ध्यानचंद का 119वां जन्मदिवस मनाया जा रहा है. मेजर ध्यानचंद को जन्मदिवस को भारत में नेशनल स्पोर्ट्स डे के तौर पर मनाया जाता है. इस साल टोक्यो ओलंपिक में भारत ने अपना सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए सात मेडल अपने नाम किए हैं और इसलिए इस दिन की अहमियत और ज्यादा बढ़ जाती है.

मेजर ध्यानचंद से बेहतरीन हॉकी खिलाड़ी आज तक दुनिया में नहीं हुआ है. मेजर ध्यानचंद का जन्म 29 अगस्त 1905 को हुआ था. मेजर ध्यानचंद ने भारत के लिए 1926 से लेकर 1949 तक हॉकी खेली. अपने करियर के दौरान मेजर ध्यानचंद भारत को 1928, 1932 और 1936 में ओलंपिक गोल्ड मेडल दिलाने में कामयाब रहे.

मेजर ध्यानचंद को हॉकी का जादूगर कहा जाता है. ऐसा दावा किया जाता है कि मेजर ध्यानचंद की हॉकी से गेंद को छिन पाना नामुमकिन था. इलाहाबाद में पैदा हुए मेजर ध्यानचंद की चर्चा विदेशों में हुआ करती थी. मेजर ध्यानचंद के खेल को देखकर विदेशी कहा करते थे कि उनकी हॉकी से गेंद चिपक जाता करती थी.  

भारतीय हॉकी को मिली पहचान

भारत के गृह मंत्री अमित शाह ने मेजर ध्यानचंद को उनके योगदान के लिए याद किया है. अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा, ”मेजर ध्यानचंद ने अपने योगदान से भारतीय हॉकी को नई पहचान दी. बिना संसाधनों के मेजर ध्यानचंद ने पूरे देश को गर्व करने का मौका दिया और वह हमेशा हमें प्रेरणा देते रहेंगे.”

पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल ही में राजीव गांधी खेल रत्न को मेजर ध्यानचंद की याद में बदलने का फैसला किया. पीएम मोदी ने कहा कि देशवासियों की इच्छा का सम्मान करते हुए अब खेल रत्न अवार्ड्स को अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न अवार्ड्स के नाम से जाना जाएगा.

बता दें कि एक बार फिर से हॉकी में भारत के अच्छे दिनों की शुरुआत के संकेत मिले हैं. 1980 के बाद भारतीय हॉकी टीम पहली बार ओलंपिक खेलों में मेडल जीतकर वापस लौटी है.

IND Vs ENG: जो रूट ने गेंदबाजों को दिया जीत का श्रेय, कहा- प्रदर्शन बेहद ही शानदार रहा