उत्तर प्रदेश के शहरों में दिखाई दिया रविवार को लॉकडाउन का असर

0
उत्तर प्रदेश के शहरों में दिखाई दिया रविवार को लॉकडाउन का असर

लॉकडाउन के दौरान दवा दुकानें और आवश्यक सामान बेचने वाली दुकानें खुली रहीं. राज्य में रविवार का लॉकडाउन 15 मई तक जारी रहेगा. सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि जल्द से जल्द संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन लागू किया गया था.

उत्तर प्रदेश में दिखा लॉकडाउन का असर (Photo Credit: आईएएनएस)

highlights

  • रविवार को यूपी में दिखा लॉकडाउन का असर
  • उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के मामले
  • यूपी में 15 मई तक जारी रहेगा रविवार का लॉकडाउन

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में भी कोरोना महामारी के बढ़ते प्रसार को देखते हुए योगी सरकार के राज्य में रविवार के दिन लॉकडाउन का असर देखने को मिला और सरकार ने सभी प्रमुख शहरों में बड़े पैमाने पर सैनिटाइजेशन अभियान चलाया. लॉकडाउन के दौरान दवा दुकानें और आवश्यक सामान बेचने वाली दुकानें खुली रहीं. राज्य में रविवार का लॉकडाउन 15 मई तक जारी रहेगा. सरकार के प्रवक्ता ने कहा कि जल्द से जल्द संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन लागू किया गया था. उन्होंने आगे कहा, जितना अधिक लोग हमारे साथ सहयोग करेंगे, पहले की तरह हम कोविड के प्रसार को तोड़ने में सक्षम होंगे.

इस बीच, प्रमुख शहरों के सभी नगरपालिका अधिकारियों ने सैनिटाइजेशन अभियान चलाया. सड़कों, सार्वजनिक स्थानों, बाजारों और घनी आबादी वाले क्षेत्रों को सैनिटाइज किया गया. एनडीए की परीक्षा दे रहे छात्रों को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ बसों में जाने की अनुमति दी गई. आवश्यक सेवा क्षेत्र में काम करने वालों को भी अपने कार्य स्थानों पर जाने की अनुमति दी गई. राज्य सरकार अब मास्क के इस्तेमाल को लेकर सख्त हो गई है और जुर्माने को बढ़ाकर 10,000 रुपये कर दिया गया है.

यह भी पढ़ेंःUP के अतिप्रभावित 12 जिलों में ने ICU और आइसोलेशन बेड हो दोगुनेः योगी

12 जिलों में दोगुनी की जाएंगी सुविधाएं
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश के अति प्रभावित 12 जिलों में आईसीयू और आइसोलेशन बेड्स की क्षमता को दोगुना करने के निर्देश दिए हैं. सीएम ने चिकित्सा शिक्षा मंत्री को आदेश देते हुए कानपुर में जीएसवीएम, रामा मेडिकल कॉलेज और नारायणा मेडिकल कॉलेज की सुविधाओं में बढ़ोतरी किए जाने के निर्देश दिए हैं. लखनऊ, प्रयागराज, मुरादाबाद, झांसी, कानुपर सहित संक्रमण से अति प्रभावित करीब 12 जिलों में आईसीयू और आइसोलेशन बेड्स की क्षमता को दोगुना किया जाएगा. सीएम ने प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति को और बेहतर करने के लिए अलग-अलग स्थानों पर 10 नए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने के निर्देश के बाद ही तय समय सीमा में राजधानी लखनऊ के एसजीपीजीआई में 20 हजार लीटर का लिक्विड ऑक्‍सीजन प्‍लांट भी लगवाया.

यह भी पढ़ेंःदिल्ली सरकार ने 4 एयरलाइंस के खिलाफ लिया एक्शन, DDMA के तहत दर्ज की FIR

यूपी में 3 दिन बाद शुरू होगी कोरोना की पीक
प्रोफेसर मणींद्र अग्रवाल की रिसर्च को अगर सच मानें तो यूपी में प्रतिदिन 10 हजार संक्रमित मरीजों के औसत से 20 से 25 अप्रैल तक कोरोना वायरस का संक्रमण अपने पीक पर रहने वाला है. इसके बाद से ग्राफ फिर से गिरना शुरू हो जाएगा. वायरस का प्रसार सात दिनों तक सर्वाधिक रहेगा और फिर धीरे-धीरे केस की संख्या कम होनी शुरू हो जाएगी. मौजूदा समय में यूपी में 1,50,676 एक्टिव केस हैं. प्रदेश में लखनऊ, वाराणसी, प्रयागराज, कानपुर, गोरखपुर, झांसी, गाजियाबाद, मेरठ, लखीमपुर खीरी और जौनपुर में कोरोना संक्रमण के सर्वाधिक मामले हैं.



संबंधित लेख

First Published : 18 Apr 2021, 05:53:34 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.