ओलंपिक पदक विजेता मीराबाई चानू को मणिपुर पुलिस में बनाया गया एडिशनल एसपी

0

कोलकाता: ओलंपिक रजत पदक विजेता सैखोम मीराबाई चानू को मणिपुर पुलिस विभाग में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एडिशनल एसपी) (खेल) के रूप में नियुक्त करने का निर्णय लिया गया है. राज्य के सीएम एन बीरेन सिंह ने पोरोमपत में क्रायोजेनिक ऑक्सीजन प्लांट और डीआरडीओ द्वारा क्यामगेई में कोविड अस्पताल के निर्माण के निरीक्षण के दौरान ये एलान किया.

एन बीरेन सिंह ने कहा कि मीराबाई चानू को एक करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि ओलंपियन जुडोका लिकमाबम सुशीला देवी को कांस्टेबल के पद से सब-इंस्पेक्टर के पद पर पदोन्नत किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि सभी प्रतिभागियों को 25 लाख रुपये दिए जाएंगे. मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि राज्य सरकार ने जल्द ही राज्य में विश्व स्तरीय भारोत्तोलन अकादमी स्थापित करने का निर्णय लिया है.

गोल्ड की आस फिर जगी

जानकारी के मुताबिक, वेटलिफ्टिंग इवेंट के 49 किलोग्राम भार वर्ग में सिल्वर मेडल जीतने वाली मीराबाई चानू को सिल्वर के बदले गोल्ड मेडल दिया जा सकता है. दरअसल, इस इवेंट की गोल्ड मेडल विजेता चीन की हो जजिहू का एक बार फिर डोप टेस्ट किया जाएगा. और अब अगर जजिहू इस डोप टेस्ट में फेल हो जाती हैं तो ऐसे में चानू का सिल्वर मेडल, गोल्ड में बदल सकता है.

वतन लौटीं पदक विजेता

मीराबाई चानू जापान से आज दिल्ली वापस लौट आई हैं. वहीं चीन की जजिहू को ओलंपिक आयोजकों ने दोबारा डोप टेस्ट के लिए रुकने के निर्देश दिए हैं. इस डोप टेस्ट को लेकर फिलहाल कोई अधिक जानकारी सामने नहीं आई है. हालांकि सूत्रों के अनुसार ये डोप टेस्ट आज या कल किया जा सकता है.

पेगासस जासूसी मामले में ममता बनर्जी ने जांच आयोग का किया गठन, पश्चिम बंगाल ऐसा करने वाला पहला राज्य

Tokyo Olympics 2020: जानिए, कैसे ओलंपिक में सिल्वर जीतने वाले मीराबाई चानू को मिल सकता है गोल्ड मेडल