कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का सस्पेंशन 31 मई 2021 तक बढ़ाया गया

0
कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का सस्पेंशन 31 मई 2021 तक बढ़ाया गया

नई दिल्ली: कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते डीजीसीए ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का निलंबन 31 मई 2021 तक बढ़ा दिया है. यह प्रतिबंध अंतर्राष्ट्रीय ऑल-कार्गो ऑपरेशन और उड़ानों  पर लागू नहीं होगा. साथ ही आवश्यकता पड़ने पर कुछ अंतरराष्ट्रीय रूट्स पर संबंधित अथॉरिटी की मंजूरी के बाद उड़ानों को संचालित किया जा सकता है. 

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने आदेश जारी किया है कि  31 मई 2021 की रात 11.59 बजे (भारतीय समय) तक निर्धारित अंतरराष्ट्रीय कमर्शियल यात्री सेवाएं निलंबित रहेंगी. अंतरराष्ट्रीय निर्धारित उड़ानों को सक्षम प्राधिकारी द्वारा चयनित मार्गों पर मामले के आधार पर अनुमति दी जा सकती है.

पिछले साल कोरोनो महामारी की पहली लहर के दौरान लगे लॉकडाउन के बाद उड़ानों का संचालन बंद हो गया था और करीब दो महीन बाद फिर शुरू हुआ तब विमानन नियामक ने एयरफेयर कैप लगा दिया था. फरवरी में DGCA ने न्यूनतम प्राइस बैंड पर 10 प्रतिशत और मैक्सिमम प्राइस बैंड पर 30 प्रतिशत की लिमिट बढ़ा दी थी. 

देश में कोरोना संक्रमण की ताजा स्थिति
भारत में पिछले 24 घंटे में कोविड के अबतक के सर्वाधिक 3 लाख 86 हजार 452 नए मामले सामने आए. जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1 करोड़ 87 लाख 62 हजार 976 हो गई. इसके साथ ही देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 31 लाख को पार कर गयी है. आंकड़ों के मुताबिक, 3498 और मरीजों की मौत हो जाने से संक्रमण के कारण अब तक दम तोड़ चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 2 लाख 8 हजार 330 हो गई.

एक्टिव मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और अब यह बढ़कर 31 लाख 70 हजार 228 हो गयी है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 16.90 फीसदी है. लोगों के ठीक होने की दर गिरकर 81.99 फीसदी हो गयी है.

ये भी पढ़ें-

Corona Crisis: भारत में महज एक महीने में 45 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमितों की मौत

कोविड के इलाज के तरीके सुझा रहे याचिकाकर्ता को सुप्रीम कोर्ट में फटकार, 1 हजार रुपये का लगा हर्जाना