कौन हैं एके शर्मा? भाजपा ने यूपी चुनाव से पहले दी बड़ी जिम्मेदारी

0

PM Modi के करीबी व पूर्व IAS भाजपा MLC अरविंद कुमार शर्मा बीते कई दिनों से यूपी राजनीति में चर्चा का केंद्र रहे, पार्टी ने आज उन्हें BJP का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया है

ak sharma (Photo Credit: news nation)

highlights

  • उत्तर प्रदेश भाजपा ने एके शर्मा को संगठन में उपाध्यक्ष बनाया
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाते हैं अरविंद कुमार शर्मा
  • बीते कई दिनों से उत्तर प्रदेश की राजनीति में चर्चा का केंद्र रहे शर्मा

लखनऊ:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) के करीबी व पूर्व आईएएस भाजपा एमएलसी अरविंद कुमार शर्मा (BJP MLC Arvind Kumar Sharma) बीते कई दिनों से यूपी राजनीति ( UP politics) में चर्चा का केंद्र रहे. पार्टी ने आज उन्हें भाजपा का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों की घोषणा करते हुए एक प्रदेश उपाध्यक्ष व दो प्रदेश मंत्री घोषित किए हैं. प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के खास एमएलसी अरविंद कुमार शर्मा को प्रदेश का उपाध्यक्ष बनाया गया है. शर्मा को संगठन और सरकार में जगह देने के लिए पिछले कुछ समय से अटकलों का बाजार गर्म था। मऊ निवासी अरविंद कुमार शर्मा गुजरात कैडर के आईएएस अफसर रहे हैं। उन्होंने अपनी सेवा के दो वर्ष बाकी रहने से पहले ही स्वैछिक सेवानिवृति ली और सक्रिय राजनीति में उतरने के साथ भाजपा में शामिल हो गए. अरविंद कुमार शर्मा को भाजपा ने उत्तर प्रदेश में विधान परिषद सदस्य बनाया है. इसके बाद से ही उनको उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री बनाने की चर्चा जोरों पर थी. एके शर्मा को अब भाजपा के उत्तर प्रदेश संगठन में शामिल किया गया है. उनको पार्टी का प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है.

यह भी पढ़ें:  चुनावों से पहले UP भाजपा में बड़ा बदलाव, MLC एके शर्मा को दी बड़ी जिम्मेदारी

अरविंद कुमार शर्मा के अलावा दो प्रदेश मंत्री को भी नियुक्त किया गया है. लखनऊ की अर्चना मिश्रा और बुलंदशहर के अमित वाल्मीकि को भाजपा उत्तर प्रदेश का मंत्री नियुक्त किया गया है. इसके अलावा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने आज पार्टी के विभिन्न मोचरें के प्रदेश अध्यक्षों की घोषणा की प्रांशुदत्त द्विवेदी (फरूर्खाबाद) को युवा मोर्चा, गीता शाक्य राज्यसभा सांसद (औरैया) को महिला मोर्चा, कामेश्वर सिंह (गोरखपुर) को किसान मोर्चा, नरेन्द्र कश्यप पूर्व सांसद (गाजियाबाद) को पिछड़ा वर्ग मोर्चा, कौशल किशोर सांसद को अनुसूचित जाति मोर्चा, संजय गोण्ड (गोरखपुर) को अनुसूचित जनजाति मोर्चा व कुंवर बासित अली (मेरठ) को अल्पसंख्यक मोर्चा का प्रदेश अध्यक्ष घोषित किया है.

यह भी पढ़ें:  पंजाब: राजकीय सम्मान के साथ होगी मिल्खा सिंह की विदाई, शोक में एक दिन का अवकाश

वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के बाद पहली बार यूपी की राजधानी भाजपा कार्यालय पहुंचे जितिन प्रसाद ने क्षेत्रीय पार्टियों पर निशाना साधा और कहा क्षेत्रीय दल कभी प्रदेश का भला नहीं कर सकते हैं. जितिन प्रसाद ने शनिवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा कि यूपी में जो कभी क्षत्रप थे, जिन्होंने क्षेत्रीय पार्टियां बनाई. आज उनके अस्तित्व पर सवाल है. छोटी पार्टियों को बड़े नेताओं ने बनाई और अब यह व्यक्ति विशेष के इर्द-गिर्द घूमती है। देश और प्रदेश के प्राथमिकता दूसरे नंबर पर चली जाती है. सिर्फ भाजपा एक ऐसी पार्टी है जो देश के बारे में सोचती है. 



संबंधित लेख

First Published : 19 Jun 2021, 05:42:13 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.