चिराग पासवान ने की आरजेडी चीफ लालू यादव से मुलाकात

0

बिहार में चल रही राजनीतिक गहमा गहमी के बीच लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने राजद सुप्रीमो लालू यादव से मुलाक़ात की. दिल्ली में मीसा भारती के घर पर हुई मुलाक़ात के दौरान चिराग पासवान ने लालू यादव को अपने पिता रामविलास पासवान की बरसी में आने का न्यौता दिया. हालांकि लालू ने कहा कि वो बरसी में शरीक नहीं हो पाएंगे.

तेजस्वी यादव से बढ़ती नजदीकियों की ख़बरों के बीच चिराग पासवान और लालू यादव की मुलाक़ात का मक़सद तो सीमित था लेकिन मुलाक़ात के बाद लालू यादव, राबड़ी देवी और मीसा भारती के साथ चिराग पासवान की साझा तस्वीर से बिहार की राजनीति में हलचल और तेज़ हो जाएगी. मुलाक़ात के बाद लालू यादव ने कहा कि रामविलास पासवान से उनके पारिवारिक सम्बन्ध रहे हैं और इस नाते चिराग पासवान उनके परिवार का ही हिस्सा हैं. लालू ने कहा कि उनका आशीर्वाद सदा चिराग पासवान के साथ है.

तेजस्वी और चिराग पासवान को एक साथ देखना चाहते हैं लालू

वैसे लालू ने इस सवाल का कोई साफ़ जवाब नहीं दिया कि क्या वो तेजस्वी यादव और चिराग पासवान का गठबंधन चाहते हैं? लोजपा में चाचा पशुपति पारस की बग़ावत के बाद हुई टूट के चलते पिछले कई दिनों से चिराग-तेजस्वी के साथ आने को लेकर अटकलों का बाज़ार गर्म है. कुछ दिनों पहले ख़ुद लालू यादव ने कह दिया था कि वो तेजस्वी और चिराग पासवान को एक साथ देखना चाहते हैं.

रामविलास पासवान की बरसी का निमंत्रण देना था मकसद 

हालांकि चिराग पासवान कई मौक़ों पर ये साफ़ कर चुके हैं कि फ़िलहाल उनका ध्यान अपनी आशीर्वाद यात्रा और अन्य कार्यक्रमों के ज़रिए अपने संगठन को मज़बूत बनाना है. आज लालू यादव से मुलाक़ात के बाद एक बार फिर चिराग पासवान ने कहा कि उनकी मुलाक़ात का मक़सद सिर्फ़ रामविलास पासवान की बरसी का निमंत्रण देना था.

यह भी पढ़ें.

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की BSP से हो सकती है छुट्टी, यूपी चुनाव में टिकट नहीं देगी पार्टी

Dengue in UP: डेंगू और वायरल बुखार से हुई मौतों पर मायावती ने जताई चिंता, बोंलीं- ध्यान दे योगी सरकार