जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में दिखे दो ड्रोन, बाद में पाकिस्तान की तरफ लौटे

0

सांबा: जम्मू कश्मीर में कई बार ड्रोन से जुड़ी वारदातें देखने को मिली हैं. सीमा पार से आने वाले इन ड्रोन के जरिए कई हथियार भेजे जा रहे हैं. अब एक बार फिर ड्रोन देखा गया है और इसने पाकिस्तान की ओर उड़ान भरी थी.

एसएसपी सांबा राजेश शर्मा के मुताबिक, ‘आज शाम सांबा के घगवाल और चछवाल इलाके में स्थानीय लोगों ने दो ड्रोन देखे. इसकी सूचना पुलिस को दी गई. ड्रोन ने बाद में पाकिस्तान की ओर उड़ान भरी.’ हालांकि ये कोई पहला मामला नहीं है जब सीमा पार से ड्रोन की वारदातें देखी गई हैं. इससे पहले भी कई मामले सामने आ चुके हैं.

एक दिन पहले 30 जुलाई को ही जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान से लगी हुई अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) के पास पर्गवाल इलाके में कुछ स्थानीय लोगों ने कथित तौर पर एक उड़ने वाली वस्तु देखी, जिसके बाद पुलिस ने इलाके में तलाश अभियान चलाया. अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि समझा जाता है कि उड़ने वाली यह वस्तु ड्रोन थी.

तलाशी अभियान

अधिकारियों के मुताबिक, गुरुवार की शाम को चमकती वस्तु देखे जाने के बाद पर्गवाल इलाके के कई गांवों में पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया. देर रात को तलाशी अभियान रोक दिया गया और सुबह करीब पांच बजे दोबारा शुरू किया गया. हालांकि तलाशी अभियान में कुछ भी संदिग्ध नहीं पाया गया. इस बीच गुरुवार को सांबा जिले के बारी-ब्राह्मणा, चिलाद्या और गगवाल इलाकों में तीन संदिग्ध पाकिस्तानी ड्रोन भी देखे गए.

अधिकारियों के मुताबिक सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने एक ड्रोन पर पाकिस्तान की ओर लौटने से पहले चिलाद्या में दो गोलियां भी चलाईं. उन्होंने बताया कि बारी-ब्राह्मणा और जम्मू-पठानकोट राजमार्ग पर गगवाल में संवेदनशील सुरक्षा प्रतिष्ठानों के ऊपर चक्कर लगाने के बाद अन्य दो ड्रोन नदारद हो गए. करीब एक सप्ताह पहले सीमाई इलाके में कनाचक के पास पुलिस ने एक पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया था जो पांच किग्रा विस्फोटक ले कर जा रहा था.

गौरतलब है कि 27 जून को जम्मू में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के अड्डे पर ड्रोन के जरिए विस्फोट किया गया था, जिसमें दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे. इस घटना के बाद से ही विशेष रूप से ड्रोन संबंधी गतिविधियों में तेजी आई है.

यह भी पढ़ें: जम्मू के सांबा में फिर दिखाई दिए तीन पाकिस्तानी ड्रोन, गोलियों की आवाज सुन वापस लौटे