जम्मू, हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, यूपी में भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना

0

India Monsoon Update: मौसम विभाग ने जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में भारी से बहुत भारी बारिश जारी रहने की संभावना जतायी है. भारी बारिश, लैंड स्लाइड और बाढ़ से जगह-जगह भारी नुकसान हो रहा है. बाढ़ से हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और लद्दाख में कुल 17 लोगों की जान चली गई.

हिमाचल में भारी बारिश ने तबाही मचा दी है. हिमाचल के लाहौल-स्पीति में बारिश के कारण बादल फटने और भूस्खलन से 175 पर्यटक फंस गए. 387 सड़कें बंद करनी पड़ी हैं. नदी नाले उफान पर है. वहीं, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में बारिश से संबंधित अलग-अलग घटनाओं में दो लोगों की मौत हो गई. जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ जिले के होंजार गांव में बादल फटने की घटना के बाद लापता 20 लोगों का पता लगाने का अभियान जारी है.

दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों में भारी बारिश हुई जिससे तापमान में गिरावट आयी. बारिश के कारण सड़कों पर जलजमाव हो गया और यातायात बाधित हुआ. दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के गोविंदपुरी इलाके में भारी बारिश के कारण झुग्गी की छत गिरने से एक 40 वर्षीय महिला की मौत हो गई और उसकी बेटी घायल हो गई. पुलिस ने कहा कि नवजीवन कैंप में ‘झुग्गी’ की पहली मंजिल की छत भारी बारिश के कारण गिर गई. दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर भारी बारिश के बाद 203.37 मीटर तक बढ़ गया जो खतरे के निशान 204.50 मीटर के करीब है.

राजस्थान में ‘रेड अलर्ट’ जारी
मौसम विभाग ने राजस्थान के कई जिलों में शुक्रवार को बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है. मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले कुछ दिनों में राज्य के अनेक हिस्सों में भारी से अत्यंत भारी बारिश होगी. जयपुर मौसम केंद्र के अनुसार, राज्य में सक्रिय दक्षिण-पश्चिमी मानसून आने वाले कुछ दिनों में और जोर पकड़ेगा. केंद्र ने शुक्रवार को राज्य के नागौर, सीकर और अजमेर जिले में काफी भारी से अत्यंत भारी (115.6-204.4 मिमी. तक) बारिश की चेतावनी वाला ‘रेड अलर्ट’ जारी किया है.

मध्य प्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी
आईएमडी ने अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 15 जिलों में भारी बारिश होने और आकाशीय बिजली गिरने की आशंका व्यक्त करते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. आईएमडी भोपाल कार्यालय के वरिष्ठ मौसम विज्ञानी पी के साहा ने बताया कि मध्य प्रदेश के श्योपुर, मुरैना, भिण्ड, टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, दतिया, शिवपुरी, अनूपपुर, डिंडोरी, नीमच, मंदसौर, रतलाम, बालाघाट एवं मंडला जिलों में आगामी 24 घंटों में कहीं-कहीं पर भारी बारिश और गरज के साथ बिजली चमकने, गिरने की संभावना का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है.

बांग्लादेश और पश्चिम बंगाल में कम दबाव के कारण रात भर हुई भारी बारिश ने गुरुवार को कोलकाता और राज्य के कुछ दक्षिणी जिलों में सामान्य जनजीवन को प्रभावित किया है. मौसम विभाग ने शुक्रवार सुबह तक कोलकाता में भारी से बहुत भारी बारिश होने की संभावना जताई है. बुधवार शाम से लगातार हो रही बारिश से शहर के कुछ मुख्य मार्गों और निचले इलाकों में पानी भर गया. दक्षिण पूर्व रेलवे (एसईआर) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि पश्चिम बंगाल में हल्दिया और टिकियापारा यार्ड और ओडिशा के भद्रक में पटरियों के ऊपर वर्षा जल बहने की सूचना मिली है.

महाराष्ट्र के ठाणे जिले में वैतरणा नदी पर बना एक पुल भारी बारिश के कारण बह गया जिससे वड़ा और शहापुर तालुकाओं के बीच यातायात बाधित हो गया. पिछले 24 घंटों में पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश में ज्यादातर जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश हुई. फतेहपुर, चित्रकूट, खीरी, बदायूं, आगरा, सहारनपुर और मुजफ्फरनगर जिलों में बारिश दर्ज की गई और बारिश एक अगस्त तक जारी रहने की संभावना है. हरियाणा के अंबाला, हिसार, नारनौल, रोहतक, गुड़गांव और भिवानी सहित कुछ हिस्सों में बारिश हुई. पंजाब के अमृतसर में अधिकतम तापमान 33 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

ये भी पढ़ें-
ABP नेटवर्क पर अब तेलुगु भाषा में भी पढ़िए देश दुनिया की खबरें, लॉन्च हुआ ‘एबीपी देसम’

Delhi Monsoon Update: दिल्ली के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी, आज भी बारिश की संभावना