टेस्ट क्रिकेट में जीत-हार का अंतर तय करता है स्ट्राइक रेट, रोहित शर्मा इसलिए हैं अहम

0

टेस्ट क्रिकेट में लंबी इनिंग्स खेलना अहम है लेकिन जीत हासिल करने के लिए बल्लेबाज का स्ट्राइक रेट अहम पहलू बन जाता है. बल्लेबाज किस स्ट्राइक रेट से खेल रहे हैं यह कई बार जीत और हार या फिर एक ड्रा के बीच मे फासला तय कर देता है. इसी वजह से रोहित शर्मा जैसा बल्लेबाज भारतीय टीम के लिए एक अहम किरदार है.

रोहित 34 साल के है और अपने लंबे कैरियर में उन्होंने ज़्यादातर वाइट बॉल क्रिकेट में ही खेला है. टेस्ट क्रिकेट में रोहित शर्मा ने अब तक 40 ही टेस्ट मैच खेलकर 2700 से ज़्यादा रन बनाए हैं. इसमे 7 शतक है, लेकिन अहम है स्ट्राइक रेट.  भारतीय बल्लेबाज़ 57.19 की स्ट्राइक रेट से अब तक टेस्ट क्रिकेट में खेलें है. लॉर्ड्स में भी रोहित की 83 रनों की पारी में स्ट्राइक रेट 57.24 का था.

केएल राहुल की बात करें तो कैरियर में अब तक खेले गए टेस्ट मैचों में राहुल भी 55.61 की स्ट्राइक रेट से रन बनायें है. लॉर्ड्स में नाबाद 127 रनों की पारी में केएल राहुल का स्ट्राइक रेट 51.20 का रहा है.

टेस्ट क्रिकेट में जल्दी रन बनाने से विपक्षी टीम के 20 विकेट लेने और मैच जीतने के लिए गेंदबाजों को ज़्यादा समय मिल जाता हैं. एक बैट्समैन जल्दी रन बनाते हैं तो बाकी खिलाड़ियों से दबाव भी कम हो जाता है. टेस्ट क्रिकेट कई सेशन ऐसे होते है जहां रन बनाना मुश्किल होता है और इसीलिए मौके मिलते ही जल्दी रन बनाना अहम हो जाता है.

सहवाग ने किया है कमाल

लेकिन जल्दी रन बनाने की कोशिश में विकेट भी खोने की संभावना रहती है. ये काम आसान नहीं है और कम ही बल्लेबाज़ ऐसे हैं जो कि लगातार टेस्ट क्रिकेट में ऐसी ज़िम्मेदारी निभाई और जिनको सफलता भी मिली.

इस लिस्ट में टॉप पर हैं वीरेंद्र सहवाग. 104 टेस्ट मैच खेलकर 8586 रन बनाने वाले सहवाग ने 23 शतक जड़े हैं और स्ट्राइक रेट सुनकर आप हैरान रह जाएंगे. ये आंकड़ा है 82.23 की. यानी प्रति 100 गेंद खेलकर सहवाग ने अपनी टेस्ट कैरियर में 82 से अधिक रन स्कोर किया हैं .

टेस्ट क्रिकेट में सहवाग के साथ अगर कोई खिलाड़ी की तुलना की जा सकती है तो वो हैं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेट कीपर बल्लेबाज़ एडम गिलक्रिस्ट, जिन्होंने 96 टेस्ट मैचों में 81.95 की स्ट्राइक रेट के साथ 5570 रन स्कोर किया था.

शाहिद अफरीदी 86 की स्ट्राइक रेट के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में इस लिस्ट में भले ही टॉप पर हैं, लेकिन अफरीदी ने सिर्फ 27 ही टेस्ट मैच खेले हैं और बल्लेबाज़ी में इस तरह का रिकॉर्ड उनके नाम नहीं है जो कारनामा सहवाग या फिर गिलक्रिस्ट ने किया हैं.

भारत के खिलाफ खेलकर श्रीलंका क्रिकेट को हुआ फायदा, 107 करोड़ रुपये कमाए