दिल्ली के एक अस्पताल में पूरी तरह से टीकाकरण वाले 25 फीसदी स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित- सर्व

0

दिल्ली के एक अस्पताल में पूरी तरह से टीकाकरण वाले स्वास्थ्यकर्मियों में से 25 फीसदी लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. लेकिन किसी भी शख्स को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं पड़ी है, क्योंकि ये संक्रमण इतना खतरनाक नहीं था. ये जानकारी एक सर्वे में सामने आई है.

न्यूज वेबसाइट द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, ये सर्वे दिल्ली और गुरुग्राम के मैक्स ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल्स के 600 हेल्थकेयर वर्कर पर किया गया था. जिसका नेतृत्व इंस्टीट्यूट ऑफ जीनोमिक्स एंड इंटीग्रेटिव बायोलॉजी (आईजीआईबी) के वैज्ञानिकों ने किया था. अध्ययन में पूरी तरह से टीकाकरण वाले स्वास्थ्यकर्मियों में से 25 फीसदी लोगों में एंटीबॉडी मिला है.

इस अध्ययन का नेतृत्व करने वाले आईजीआईबी के वैज्ञानिक शांतनु सेनगुप्ता का कहना है कि 25 फीसदी स्वास्थ्यकर्मियों के हल्का संक्रमण होने का अनुमान है. क्योंकि कोरोना के अब कई सारे वेरिएंट आ गए हैं, इसलिए उन्हें अपना कोरोना वायरस का टेस्ट कराना चाहिए. 

भारत में कोरोना की दूसरी लहर का कहर अब धीमा हो गया है. हालांकि कोविड-19 का डेल्टा वेरिएंट दुनियाभर में तेजी से फैल रहा है. भारत में रोजाना जितने कोरोना मामले सामने आ रहे हैं, उसमें ज्यादातर केस डेल्टा वेरिएंट के हैं. सार्स-सीओवी-2 डेल्टा वेरिएंट ने दुनियाभर में अल्फा वेरिएंट को तेजी से बदल दिया है. डेल्टा वेरिएंट पहली बार 2020 के अंत में भारत में पहचाना गया था, जबकि अल्फा वेरिएंट पिछले साल ब्रिटेन में पहली बार पहचाना गया था.

ये भी पढ़ें-
दिल्ली में स्कूल खुलने के लिए तैयार, लेकिन बच्चों को स्कूल भेजने से कतरा रहे हैं अभिभावक

India Corona Updates: 5 दिन बाद 40 हजार से कम आए कोरोना मामले, 65 फीसदी केस सिर्फ केरल में दर्ज