दिल्ली में खतरे के निशान के पार हुई यमुना

0

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर तेज़ी से बढ़ रहा है और फिलहाल जलस्तर खतरे के निशान के पार हो गया है. हथिनीकुंड बैराज से छोड़ा गया पानी दिल्ली पहुंच रहा है जिसके चलते यमुना का स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है.

शुक्रवार सुबह 11 बजे यमुना में जलस्तर 205.34 मीटर पर पहुंच गया है. जबकि खतरे का निशान 205.33 मीटर है. सुबह 10 बजे ही यमुना में जलस्तर 205.32 मीटर पहुंच गया था. यमुना में हाई फ्लड लेवल का निशान 207.49 मीटर है.

यमुना के आसपास के निचले इलाकों में बाढ़ आ सकती है

जिस तेजी से यमुना का जलस्तर बढ़ रहा है उससे आशंका है कि यमुना के आसपास के निचले इलाकों में बाढ़ आ सकती है इसे लेकर प्रशासन अलर्ट पर है. प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक हथिनीकुंड बैराज से आज सुबह 6 बजे 20,485 क्यूसेक, 7 बजे 20,485 क्यूसेक, 8 बजे 19,056 क्यूसेक, सुबह 9 बजे 19,056 क्यूसेक और सुबह 10 बजे 19,056 क्यूसेक पानी यमुना में छोड़ा गया है.

दिल्ली सरकार की तैयारियों को लेकर दिल्ली के फ्लड एंड इरिगेशन मंत्री सत्येंद्र जैन ने जानकारी देते हुए कहा कि, हथिनी कुंड से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है, बारिश भी हो रही है जिससे भी पानी बढ़ने के आसार हैं.

अगर फ्लड की स्तिथि पैदा होती है तो हम तैयार हैं- सतेंद्र जैन

सतेंद्र जैन ने आगे कहा, “दिल्ली सरकार ने पूरी तैयारियां की हुई है अगर फ्लड की स्तिथि पैदा होती है तो हम तैयार हैं. लो-लाइन के पास यमुना के किनारे जितने भी इलाके हैं वह प्रभावित होते हैं उन को चिन्हित किया हुआ है जिसकी लिस्ट भी जारी की जाएगी. सारे डीएम की ड्यूटी लगाई गई है.

यह भी पढ़ें.

महाराष्ट्र में आज आए कोरोना के 7242 नए मामले, मुंबई सहित 25 जिलों में पाबंदियों में दी जा सकती है ढील

अफगानिस्तान में तालिबानियों ने क्रूरता के साथ की थी दानिश सिद्दीकी की हत्याः रिपोर्ट