द्विपक्षीय व्यापार संबंधों को लेकर PM मोदी ने की ऑस्ट्रेलिया के पूर्व पीएम टोनी एबॉट से मुलाकात

0

नई दिल्लीः ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबॉट विशेष व्यापार दूत के रूप में 2-6 अगस्त भारत के दौरे पर हैं. वह भारत में ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के भारत के लिए विशेष व्यापार दूत के रूप में आए हैं. अपने दौरे के दौरान उन्होंने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की, इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ाने पर जोर दिया.

द्विपक्षीय व्यापार निवेश पर हुई चर्चा

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी एबॉट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के दौरान दोनों देशों को हिंद-प्रशांत क्षेत्र में स्थिर, सुरक्षित और समृद्ध बनाने के अपने दृष्टिकोण को साकार करने में मदद करने पर बात की. इस दौरान दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय व्यापार, निवेश और आर्थिक सहयोग को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की. जिसकी जानकारी प्रधान मंत्री कार्यालय की ओर से एक बयान जारी कर दी गई है.

हिंद-प्रशांत क्षेत्र दोनों देशों की स्थिति को बनाएंगे मजबूत

प्रधान मंत्री कार्यालय के अनुसार उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बढ़े हुए आर्थिक सहयोग से दोनों देशों को COVID-19 महामारी से उभरने वाली आर्थिक चुनौतियों का बेहतर ढंग से सामना करने में मदद मिलेगी, और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में दोनों देश एक स्थिर, सुरक्षित और समृद्ध बनने के उनके दृष्टिकोण को साकार करने में भी मदद मिलेगी.

PM मोदी ने की एबॉट के महत्वपूर्ण योगदान की प्रशंसा

प्रधान मंत्री मोदी ने हाल के दिनों में भारत-ऑस्ट्रेलिया संबंधों के शानदार विकास पर संतोष व्यक्त किया और इस यात्रा में प्रधान मंत्री मॉरिसन और पूर्व प्रधान मंत्री एबॉट के महत्वपूर्ण योगदान की प्रशंसा की. पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा ‘प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन के विशेष दूत टोनी एबॉट से मिलकर प्रसन्नता हुई. हमारी व्यापक रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करने के तरीकों पर अच्छी बातचीत हुई.’

पीयूष गोयल ने की टोनी एबॉट से मुलाकात

वहीं केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री, पीयूष गोयल ने भी ऑस्ट्रेलियाई पीएम के विशेष व्यापार दूत टोनी एबॉट से मुलाकात की है. उन्होंने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा की है. केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा ‘भारत और ऑस्ट्रेलिया एक लचीली और विश्वसनीय आपूर्ति श्रृंखला के लिए काम कर रहे हैं.’

इसे भी पढ़ेंः
पाकिस्तान में मंदिर में तोड़फोड़ पर भारत के सख्त एतराज के बाद पीएम इमरान खान का आया बयान, जानें क्या कहा?

नीतीश कुमार ने PM मोदी को लिखा पत्र, जातीय जनगणना के मुद्दे पर बातचीत के लिए मांगा समय