धर्मांतरण केस: अब इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का नाम आया सामने

0

उत्तर प्रदेश एटीएस द्वारा अवैध धर्म परिवर्तन गिरोह का पर्दाफाश किए जाने के बाद इस मामले में एक के बाद एक नए खुलासे हो रहे हैं.

धर्मांतरण केस: अब इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का नाम आया सामने (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • धर्मांतरण मामले में एक और नया खुलासा हुआ
  • इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का नाम जुड़ा
  • हिंदू छात्रा का धर्म परिवर्तन कराने का आरोप

प्रयागराज:

उत्तर प्रदेश एटीएस द्वारा उमर गौतम और जहांगीर को कम से कम 1,000 वंचित युवाओं के अवैध धर्म परिवर्तन के आरोप में गिरफ्तार किए जाने के बाद धर्मांतरण मामले में एक के बाद एक नए खुलासे हो रहे हैं. अब इस रैकेट में इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर का नाम भी सामने आया है. इस मामले में यूनिवर्सिटी के पॉलिटिकल साइंस के प्रोफेसर मो. शाहिद का नाम जुड़ा है. उन पर कानपुर की ऋचा देवी का धर्मांतरण कराने का आरोप लगे हैं. आपको बता दें कि जमातियों की मदद के मामले में प्रोफेसर मो. शाहिद जेल भी जा चुके हैं.

यह भी पढ़ें : ‘लालू परिवार गरीबों का टीकाकरण बाधित करने की बड़ी साजिश का हिस्सा’

आरोप हैं कि कानपुर के घाटमपुर की ऋचा धर्म परिवर्तन कर माहीन अली बनी है. प्रोफेसर के संपर्क में आने से ऋचा के माहीन अली बनने की बात सामने आ रही है. प्रोफेसर के ही प्रेरित करने पर ऋचा के माहीन अली बनने की बात कही जा रही है. बताया जाता है कि प्रयागराज में ऋचा सिविल सर्विसेज की तैयारी के दौरान प्रोफेसर के संपर्क में आई थी. अब इस मामले में नाम जुड़ने के बाद एटीएस की टीम प्रोफेसर मो. शाहिद की तलाश कर रही है.

गौरतलब है कि हाल में उत्तर प्रदेश एटीएस ने दो लोगों की गिरफ्तारी के बाद धर्म परिवर्तन कराने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया था. बीते दिनों उमर गौतम और जहांगीर को कम से कम 1,000 वंचित युवाओं के अवैध धर्म परिवर्तन के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. बाद में राज्य पुलिस ने लगभग 24 राज्यों में सिंडिकेट की पैठ का पता लगाया है. इसमें मूक बधिर छात्रों के धर्म परिवर्तन की बात भी सामने आई है.

यह भी पढ़ें : किसानों के धरना-प्रदर्शन पर ISI का साया, बवाल की खुफिया अलर्ट

करीब 500 से अधिक छात्रों का ब्यौरा यूपी एटीएस ने तैयार किया है. यूपी एटीएस अब जल्द ही लापता मूक बधिर छात्रों को मदरसों में  तलाश करेगी. नोएडा डेफ सोसाइटी के मूक बधिर छात्रों के मामले में लापता छात्रों की तलाश के लिए अब दिल्ली एनसीआर के मदरसों में यूपी एटीएस तलाशी अभियान चलाएगी. इसके साथ ही यूपी एटीएस की रडार पर कानपुर के तीन मौलाना भी आ चुके हैं, जो सीएए और एनआरसी विरोध में हिंसा भड़काने के आरोप में जेल जा चुके है. इस धर्मांतरण मामले में और भी कई खुलासे हो चुके हैं. 



संबंधित लेख

First Published : 26 Jun 2021, 11:22:54 AM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.