पंचायत चुनाव प्रक्रिया रोकने की सुप्रीम कोर्ट में याचिका, सुनवाई कल

0
पंचायत चुनाव प्रक्रिया रोकने की सुप्रीम कोर्ट में याचिका, सुनवाई कल

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव की प्रक्रिया पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर यूपी राज्य चुनाव आयोग को नोटिस भेजा गया है. याचिका पर सुप्रीम कोर्ट एक मई को सुनवाई करेगा, क्योंकि 2 मई को काउंटिंग होनी है.

Written By : मानवेन्द्र प्रताप सिंह | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 30 Apr 2021, 08:11:17 PM

पंचायत चुनाव प्रक्रिया रोकने की सुप्रीम कोर्ट में याचिका (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • कोरोना वायरस के महासंकट के बीच सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है
  • याचिकाकर्ता की अपील है कि यूपी में पंचायत चुनाव के वोटों की गिनती को टाल देना चाहिए
  • यूपी में पंचायत चुनाव चार चरणों में संपन्न हुए हैं, जिनके नतीजे 2 मई को आने हैं

प्रयागराज :

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव की प्रक्रिया पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर यूपी राज्य चुनाव आयोग को नोटिस भेजा गया है. याचिका पर सुप्रीम कोर्ट एक मई को सुनवाई करेगा, क्योंकि 2 मई को काउंटिंग होनी है. दरअसल, 2 मई को होने वाली मतगणना को टालने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल. कोविड के हालात सामान्य न होने तक मतगणना को टालने की मांग है. मतगणना के दौरान बड़े पैमाने पर लोगों के संक्रमित होने की आशंका जताई है. एक-एक ग्राम पंचायत से अलग-अलग पदों पर लगभग 50-50 प्रत्याशी हैं मैदान में.

यह भी पढ़ें :छत्तीसगढ़ में एक मई से 18 साल से ऊपर वालों का होगा वैक्सीनेशन

याचिका में कहा गया मतगणना के दौरान एक -एक टेबल पर 60 से 70 लोग होंगे जमा. निर्वाचन अधिकारी, मतगणना कर्मियों प्रत्याशियों व उनके एजेंटों का जमावड़ा होगा. जिसके चलते मतदान में कोविड महामारी के तेज़ी से फैलने की है आशंका. कोविड प्रोटोकॉल का पालन न होने बड़ी संख्या में लोगों के संक्रमित होने की आशंका है. कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए स्टेट इलेक्शन कमीशन से जवाब मांगा.

यह भी पढ़ें : कल से युवाओं को भी लगेगी वैक्सीन, जानें क्या है आपके राज्य का हाल

कल यानी शनिवार सुबह 10:30 बजे तक सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को गंभीरता से लेते शनिवार को साढ़े दस तक स्टेट इलेक्शन कमीशन से जवाब मांगा. सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस ए.एम. खेनवलकर व जस्टिस हरीशकेश राव की बेच में हुई सुनवाई. हाथरस के ग्राम प्रधान कन्हैया लाल की तरफ से दाखिल की गई याचिका. अधिवक्ता पंकज कुमार व अधिवक्ता कौशल यादव ने याचिका पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से की बहस.

याचिकाकर्ता की अपील है कि पंचायत चुनाव खत्म हो चुका है, लेकिन वोटों की गिनती होनी है. पंचायत चुनावों के दौरान कोरोना के कई मामले आए हैं, ऐसे में अभी के हालात को देखते हुए काउंटिंग पर रोक लगानी चाहिए. आपको बता दें कि यूपी में पंचायत चुनाव चार चरणों में संपन्न हुए हैं, जिनके नतीजे 2 मई को आने हैं. पंचायत चुनाव के दौरान ड्यूटी में लगे कई लोग, चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी कोरोना की चपेट में आए हैं.

 



संबंधित लेख

First Published : 30 Apr 2021, 07:59:17 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.