बकरीद को लेकर योगी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, भीड़ इकट्ठा होने पर रोक

0

कोरोना को देखते हुए योगी सरकार (Yogi Government) ने बकरीद के लिए गाइडलाइन जारी की है. सीएम योगी ने सख्त आदेश दिया है कि कोविड को देखते हुए ईद के किसी भी आयोजन में 50 से ज्यादा लोग जमा न हों. 

News Nation Bureau | Edited By : Karm Raj Mishra | Updated on: 19 Jul 2021, 03:07:41 PM

CM Yogi (Photo Credit: News Nation)

highlights

  • कोरोना के कारण भीड़ इकट्ठा होने पर रोक
  • लगातार दूसरे साल ऊंट की कुर्बानी पर पाबंदी
  • सार्वजनिक जगहों पर नहीं दी जा सकती कुर्बानी

नई दिल्ली:

बकरीद (Eid-Ul_Adha) मुसलमानों के प्रमुख त्योहारों मे से एक है. इस साल कोरोना संकट और सावन के महीने को देखते उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) ने बकरीद (Eid-Ul_Adha 2021) और जानवरों की कुर्बानी के लिए गाइडलाइन जारी की है. सरकार ने कोरोना के संक्रमण के डर से सभी धार्मिक स्थलों के लिए भी दिशा निर्देश जारी किए हैं. इन निर्देशों के मुताबिक किसी भी धार्मिक स्थल में सामूहिक रूप से भीड़ इकट्ठा नहीं की जा सकती है. सीएम योगी ने सख्त आदेश दिया है कि कोविड को देखते हुए ईद के किसी भी आयोजन में 50 से ज्यादा लोग जमा न हों. 

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र : भारी बारिश के बाद पहाड़ी पर फंसे 116 लोगों को पुलिस ने बचाया

इसके आलावा ये सुनिश्चित किया जाए कि कहीं भी गोवंश/ऊंट अथवा अन्य प्रतिबंधित जानवर की कुर्बानी न हो. ऐसा होने पर संबंधित व्यक्ति या परिवार पर कानून के मुताबिक सख्त कार्रवाई की जाए. बता दें कि 21 जुलाई को ईद का त्यौहार मनाया जाना है. सीएम ऑफिस की तरफ से जारी आदेश में साफ कहा गया है कि कुर्बानी सार्वजनिक स्थलों पर नहीं की जाएगी. इसके लिए चिन्हित स्थलों/निजी परिसरों का ही उपयोग किया जाएगा. 

इस दौरान साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाए और प्रशासन के दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन हो. बता दें कि यूपी के कई मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कोरोना संक्रमण के कारण बकरीद की नमाज मोहल्ले की मस्जिदों में ही अदा करने की अपील की है. इसके अलावा लगातार दूसरे साल बकरीद पर ऊंटों की कुर्बानी नहीं की जाएगी, सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया है.

यही नहीं कोरोना को देखते हुए इस साल कांवड़ यात्रा पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी मण्डलायुक्तों और पुलिस जोन के वरिष्ठ अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद किया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए. सीएम योगी ने कहा कि श्रावण मास के प्रारम्भ होने के पहले बकरीद का भी त्यौहार पड़ रहा है, इसके दृष्टिगत सतर्कता और सावधानी आवश्यक है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी शिव मंदिरों, शिवालयों, देव मंदिरों, यात्रा मार्गों सहित ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए. 

ये भी पढ़ें- कोरोना: देश में पिछले 24 घंटे में 38,164 नए मामले, रिकवरी दर 97.32% पर पहुंची

वहीं स्लामिक सेन्टर आफ इण्डिया के चेयरमैन और इमाम ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने मुसलमानों से अपील की कि कुर्बानी की फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर न डालें. उन्होने अपील की कि सड़क, गली या खुले में कुर्बानी न करें. उन्होंने कहा कि कोविड-19 को देखते हुए इस बीमारी को काबू करने के लिए सावधानी बरतना जरूरी है. मस्जिदों में उतने ही नमाजी जाएं जितनों की अनुमति है. उन्होंने कहा कि त्योहार पर भी सरकारी गाइडलाइन का पालन हम सबको करना है.



संबंधित लेख

First Published : 19 Jul 2021, 02:43:24 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.