बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी को भी हुआ कोरोना संक्रमण

0
बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी को भी हुआ कोरोना संक्रमण

मुख्तार अंसारी के साथ दो कैदियों का भी सैंपल लिया गया था, उन्हें भी कोरोना (Corona Virus) संक्रमण निकला है.

एंटीजेन टेस्ट में मुख्तार अंसारी निकला कोरोना पॉजिटिव. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • मुख्तार अंसारी को हुआ कोरोना संक्रमण, जेल में ही आइसोलेट
  • एमटीजेन रिपोर्ट के बाद आरटीपीसीआर रिपोर्ट का है इंतजार
  • दो अन्य कैदियों को भी हुआ कोविड-19 संक्रमण

बांदा:

उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में कैद माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. बीते शनिवार स्वास्थ्य विभाग ने बांदा जेल जाकर मुख्तार का सैंपल लिया था. आज उसकी एंटीजेन टेस्ट की रिपोर्ट आई है, जिसमें वह संक्रमित पाया गया है. फिलहाल मुख्तार की हालत स्थिर बताई जा रही है. जेल प्रशासन का कहना है कि मुख्तार अंसारी की एंटीजेन रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. अभी आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट का इंतजार है. मुख्तार अंसारी के साथ दो कैदियों का भी सैंपल लिया गया था, उन्हें भी कोरोना (Corona Virus) संक्रमण निकला है. फिलहाल मुख्तार अंसारी को जेल में ही आइसोलेशन में रख दिया गया और डॉक्टर की सलाह पर उसका इलाज किया जा रहा है. इसके साथ ही बांदा में कुल संक्रमितों की संख्या 6760 पहुंच गई है. सक्रिय संक्रमितों की संख्या 1538 है। जिले में अब तक कुल 76 मौतें हुईं हैं.

7 अप्रैल को आया था बांदा जेल
बाहुबली मुख्तार अंसारी 7 अप्रैल की सुबह पंजाब से उत्तर प्रदेश लाया गया था. करीब 14 घंटे की मैराथन ड्राइव के बाद यूपी पुलिस ने अंसारी को बुधवार 7 अप्रैल की सुबह 4 बजकर 34 मिनट पर बांदा जेल पहुंचाया. वहां पर चार डॉक्‍टरों की टीम ने मिलकर अंसारी का मेडिकल चेकअप किया और फिर उसे बांदा जेल के बैरक नंबर 15 में शिफ्ट किया जाना था. लेकिन उस दौरान मुख्तार का कोरोना टेस्ट भी हुआ था, जिसके बाद आईसोलेशन के लिए उसे बैरक नंबर 16 में रखा गया था. रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद 15 नंबर बैरक में उसे शिफ्ट किया गया.  

यह भी पढ़ेंः दिल्ली में कोरोना का तांडव, सरकार ने अगले सोमवार तक लॉकडाउन बढ़ाया

कड़ी सुरक्षा में है बांदा जेल में
अंसारी के यूपी आने के बाद बांदा जेल के जेल अधीक्षक प्रमोद तिवारी ने बताया था कि सुरक्षाकर्मियों को जेल परिसर के बाहर भी तैनात किया गया है. बैरक नंबर 15 में रोशनी, पीने के पानी और साफ-सफाई की व्यवस्था की गई है. इस बैरक में किसी अन्य कैदी की एंट्री नहीं पाबंदित है. साथ ही, मुख्य जेल परिसर का गेट जो कि आमतौर पर खुला रहता है उसे अब बंद रखा जा रहा है. 



संबंधित लेख

First Published : 25 Apr 2021, 12:31:33 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.