मुंबई में बीजेपी की जन आर्शीवाद यात्रा में कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन, सात एफआईआर दर्ज

0

मुंबई: भारतीय जनता पार्टी की जन आर्शीवाद यात्र को लेकर उद्धव ठाकरे सरकार सख्त नजर आ रही है. दरअसल, बीजेपी की इस यात्रा के वक्त कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन के आरोप में 7 एफआईआर दर्ज की गई हैं. हालांकि अभी पुलिस ने इस पूरे मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं की है.

मिली जानकारी के मुताबिक, कोविड-19 प्रोटोकॉल के उल्लंघन के आरोप में मुंबई के विले पार्ले, खेरवादी, माहिम, शिवाजी पार्क, दादर, चेंबूर और गोवांडी पुलिस थाने में कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. बताया जा रहा है कि इस यात्रा में बीजेपी के भारी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुए. यात्रा में कई कार्यकर्ताओं के चेहरे पर मास्क नहीं दिखा. साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नहीं किया गया था. जिसका कोरोना प्रोटोकॉल के तहत करना जरूरी है.

जन आर्शिवाद यात्रा निकालने के लिए पुलिस से अनुमति नहीं ली- अधिकारी

वहीं, नियमों के उल्लंघन को देखते हुए मुंबई पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है. मुंबई के एक थाने के अधिकारी ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि, इन लोगों ने जन आर्शिवाद यात्रा निकालने के लिए पुलिस से अनुमति भी नहीं ली. उन्होंने बताया कि, पुलिस ने इन कार्यकर्ताओं के खिलाफ आईपीसी की धारा-188, 269, 270 के तहत मुकदमा दर्ज किया है.

जनता से जुड़ने के लिए जन आर्शीवाद यात्रा का आयोजन

बता दें, केंद्रीय मंत्री कपिल पाटिल के समर्थन में इस यात्रा को निकाला गया था जिसमें सैकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे. बीते महीने मोदी सरकार में शामिल किए गए मंत्रियों को बीजेपी अध्यक्ष ने जनता से जुड़ने का निर्देश दिया था. जिसके तहत जन आर्शीवाद यात्रा का आयोजन किया गया है.

यह भी पढ़ें.

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान सरकार के पैसे फ्रीज करने के बाद अब अमेरिका ने तालिबान को दिया एक और झटका

स्वतंत्रता दिवस पर अफगानिस्तान का झंडा लेकर लोगों ने किया प्रदर्शन, तालिबान की गोलीबारी में कईयों की मौत