यूपी चुनाव से पहले किसानों को खुश करने की कोशिश, योगी ने किया ये ऐलान

0

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly ELection) से पहले जनता का दिल जीतने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बुधवार को बड़ा ऐलान किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 25 Aug 2021, 11:21:07 PM

सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • पश्चिम क्षेत्र की चीनी मिलें 20 अक्टूबर से शुरू हो जाएंगी
  • मध्य क्षेत्र की चीनी मिलें 25 अक्टूबर से शुरू होंगी
  • र्व क्षेत्र की चीनी मिलों का संचालन नवंबर के पहले हफ्ते से प्रारम्भ होगा

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly ELection) से पहले जनता का दिल जीतने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बुधवार को बड़ा ऐलान किया है. गन्ना किसानों को लेकर सीएम योगी (Yogi Government ) ने कहा कि उनकी सरकार राज्य में गन्ना खरीद का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने का प्रयास करेगी. दरअसल, पिछले तीन साल से गन्ना खरीद पर एमएसपी का मुद्दा पश्चिमी उत्तर प्रदेश में जोरों पर है. गन्ना पेराई के नए सत्र से पहले पिछला सारा भुगतान करा दिया जाएगा. 

यह भी पढ़ें : किसानों को मोदी सरकार की सौगात, गन्ने पर प्रति क्विंटल बढ़ाया इतना मूल्य

किसान भाइयों से संवाद के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गन्ना मूल्य में बढ़ोतरी होगी. सभी संबंधित स्टेक होल्डर्स से संवाद कर निर्णय लेंगे. फसल अवशेष जलाने के कारण किसानों पर दर्ज मुकदमे वापस होंगे. जुर्माना वापसी पर भी जल्द फैसला लिया जाएगा. गन्ना पेराई के नए सत्र से पहले गन्ना किसानों को पिछला सारा भुगतान करा दिया जाएगा. बिजली बिल बकाए के कारण एक भी किसान का बिजली कनेक्शन नहीं कटेगा. 

यह भी पढ़ें : ऑक्सीजन से मौत के मामले में मनीष सिसोदिया ने मोदी सरकार पर लगाया ये बड़ा आरोप

सीएम योगी ने आगे कहा कि किसानों के पुराने बिजली बिल बकाए पर ब्याज देय न हो, इसलिए ओटीएस स्कीम लाएंगे. पश्चिम क्षेत्र की चीनी मिलें 20 अक्टूबर से शुरू हो जाएंगी. मध्य क्षेत्र की चीनी मिलें 25 अक्टूबर से शुरू होंगी. पूर्व क्षेत्र की चीनी मिलों का संचालन नवंबर के पहले हफ्ते से प्रारम्भ हो जाएगा.

यह भी पढ़ें :  यूपी: अदालत ने मुन्नवर राना के बेटे तबरेज राना को भेजा जेल, जानें मामला

पिछले 3 सालों से गन्ना समर्थन मूल्य में कोई वृद्धि नहीं हुई

दरअसल उत्तर प्रदेश में पिछले 3 सालों से गन्ना समर्थन मूल्य में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हुई है. आखिरी बार 2017 में प्रति क्विंटल पर 10 रुपये की बढ़ोत्तरी की गई थी. तब से गन्ना समर्थन मूल्य प्रति क्विंटल के हिसाब से 315 रुपये ही बना हुआ है. पश्चिम उत्तर प्रदेश के किसान समर्थन मूल्य बढ़ाने की मांग करते रहे हैं.



संबंधित लेख

First Published : 25 Aug 2021, 11:09:51 PM

For all the Latest States News, Uttar Pradesh News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.