यूपी में कोरोना की चल रही घातक लहर, 27426 नए मामले

0
यूपी में कोरोना की चल रही घातक लहर, 27426 नए मामले

highlights

  • प्रदेश में शुक्रवार को 27426 नए मरीज मिले हैं, जबकि 103 लोगों मरे
  • कोरोना की लहर के कहर से बचने के लिए सूबे में रविवार को लॉकडाउन
  • मास्क नहीं पहनने वालों पर भी भारी-भरकम जुर्माने वसूलने के आदेश

लखनऊ:

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर बहुत ज्यादा घातक होती जा रही है. प्रदेश में शुक्रवार को 27426 नए मरीज मिले हैं. जबकि 103 लोगों की मौत हो गई है. लखनऊ में 6598 नए केस आए हैं. इसके साथ ही कुल सक्रिय केस डेढ़ लाख के पार यानी 150676 हो चुके हैं. अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में बीते एक दिन में कुल 223307 सैंपल की जांच की गई. प्रदेश में अब तक कुल 37814182 नमूनों की जांच की जा चुकी है. स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, लखनऊ 6598, वाराणसी 2344 प्रयागराज 1758, कानपुर नगर 1403,गोरखपुर 846, झांसी- 653, गाजियाबाद 595, मेरठ 581, लखीमपुर खीरी 556, जौनपुर में 530 केस आए हैं. कोरोना के इन भयावह आंकड़ों के बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को लॉकडाउन समेत मास्क नहीं पहनने पर पहली बार एक हजार और दोबारा पकड़े जाने पर 10 हजार रुपए जुर्माना वसूलने की आदेश दिए हैं.

अमित मोहन ने बताया कि प्रदेश में 1,50,676 कोरोना के एक्टिव मामलों में से 77,146 लोग होम आइसोलेशन में हैं. निजी अस्पतालों में 2,435 लोग तथा शेष मरीज चिकित्सालयों में इलाज भी करा रहे हैं. उन्होंने बताया कि प्रदेश में विगत 24 घंटे में 6,429 तथा अब तक 6,33,461 लोग कोविड-19 से ठीक होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं. सर्विलांस टीम के माध्यम से 2,05,869 क्षेत्रों में 5,37,420 टीम दिवस के माध्यम से 3,23,79,073 घरों के 15,68,39,178 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है.

45 वर्ष से अधिक आयु वालों का कोविड वैक्सीनेशन किया जा रहा है. अब तक 88,09,638 लोगों को वैक्सीन का पहला डोज दिया गया. पहला डोज लेने वालों में से 14,87,037 लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया गया. इस प्रकार कुल 1,02,96,675 लोगों को वैक्सीन का डोज लगाया जा चुका है. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला का आयोजन 16 मई, 2021 तक स्थगित किया गया है.

योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी और बलरामपुर हॉस्पिटल को अगले 24 घंटे की अवधि में कोविड हॉस्पिटल में परिवर्तित किया जाएगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी मॉनिटरिंग की जिम्मेदारी चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना और स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह को दी है.



संबंधित लेख