यूपी में शुक्रवार रात 8 बजे से मंगलवार सुबह 7 बजे तक रहेगा लॉकडाउन

0
यूपी में शुक्रवार रात 8 बजे से मंगलवार सुबह 7 बजे तक रहेगा लॉकडाउन

लखनऊ:

यूपी में कोरोना के लगातार बढ़ते मामले देख मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस पर रोक लगाने के लिए कोरोना कर्फ्यू की समयावधि बढ़ा दी है. प्रदेश में अब शुक्रवार रात आठ बजे से मंगलवार सुबह सात बजे तक लगातार बंदी रहेगी. उत्तर प्रदेश में साप्ताहिक का विस्तार करने के साथ सरकार ने बंदिश भी बढ़ा दी है. प्रदेश सरकार के निर्णय के अनुसार अब ही शुक्रवार रात 30 अप्रैल से लागू होगा से मंगलवार सुबह सात बजे तक कर्फ्यू रहेगा. पहले सरकार ने शुक्रवार रात से सोमवार सुबह तक कोरोना कर्फ्यू लगाया था. उत्तर प्रदेश में अब तीन दिन लॉकडाउन रहेगा. सूबे में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ते मामले देख योगी आदित्यनाथ सरकार ने यह बड़ा फैसला लिया है. सप्ताहांत लॉकडाउन को अब आगे तक बढ़ा दिया गया है. बता दें कि पहले जारी किए गए आदेश के मुताबिक शनिवार और रविवार लॉकडाउन लागू रहेगा.

हालांकि सरकार ने संपूर्ण लॉकडाउन से इनकार किया है, लेकिन तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए अब इसे धीरे-धीरे बढ़ाया जा रहा है, ताकि संक्रमण की चेन को तोड़ा जा सके और आम जनता को भी परेशानी न हो.

दरअसल, बीते मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर सुनवाई करते हुए दो दिनों के लॉकडाउन को नाकाफी बताते हुए कहा था कि सरकार ने अपने विवेक के अनुसार संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए दो दिन का लॉकडाउन लगाया है साथ ही अन्य पाबंदियां भी लागू की हैं पर संक्रमण के नए मामलों को देखते हुए यह निर्थक ही लग रहा है. ये उपाय नाकाफी प्रतीत होते हैं. लॉकडाउन को मंगलवार सुबह तक बढ़ाने के पीछे हाईकोर्ट की इस टिप्पणी को भी एक वजह माना जा रहा है.

उत्तर प्रदेश में कोविड-19 की वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए अब वर्तमान शैक्षिक सत्र के अंत (20 मई 2021) तक बेसिक शिक्षा परिषद के सभी शिक्षकों, शिक्षामित्रों, अनुदेशकों तथा कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की शिक्षिकाओं को घर से कार्य करने की अनुमति दी गई है. बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने कहा कि बेसिक शिक्षा मंत्री अब 20 मई तक शिक्षकों को वर्क फ्राम होम की अनुमति दी गई है. प्रदेश में प्रदेश में कक्षा आठ तक के सभी परिषदीय, मान्यता व सहायताप्राप्त विद्यालयों में 20 मई तक शिक्षक, अनुदेशक व शिक्षा मित्र वर्क फ्राम होम रहकर पढ़ाएंगे. सचिव बेसिक शिक्षा परिषद प्रताप सिंह बघेल ने बताया कि पहले यह अनुमति 30 अप्रैल तक थी, उसे बढ़ाया गया है.

गौरतलब है कि यूपी में कोरोना से हालात बहुत बिगड़ते जा रहे हैं. 29,824 नए मरीज मिले हैं, जबकि 33,903 डिस्चार्ज हुए हैं. बुधवार को 266 लोगों की मौत हो गई. इन दिनों तीन लाख 41 एक्टिव केस हैं. इसी तरह 35,903 लोग डिस्चार्ज हुए हैं. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में अब तक 8,70,864 लोग संक्रमण बाद स्वस्थ हो चुके हैं.

और पढ़ें: 8 दिन के मासूम बच्चे ने जीती कोरोना वायरस से जंग, अस्पताल से लौटा घर

पिछले एक दिन में 1,86,588 नमूनों की जांच की गई. इनमें से 93 हजार से ज्यादा टेस्ट आरटीपीसीआर के जरिए किए हैं. प्रदेश में अब तक कुल 4,03,28,141 सैंपल की जांच हो चुकी है. इस तरह चार करोड़ से अधिक कोरोना टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया है.

अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कुल 3,00,041 एक्टिव केस में से 2,46,169 लोग घर पर अपना इलाज करा रहा हैं. यानि होम आइसोलेशन में हैं. 7,157 संक्रमित लोग निजी अस्पतालों में इलाज करवा रहे हैं और बाकी संक्रमित लोगों का सरकारी अस्पतालों में इलाज चल रहा है. उन्होंने बताया कि अयुष्मान भारत योजना के तहत भी प्राइवेट अस्पतालों निशुल्क बेड की व्यवस्था की गई है.

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार लखनऊ में 3759 प्रयागराज में 1261 कानपुर नगर में 1650 वाराणसी में 1909 मेरठ में 1355 गोरखपुर में 1045 ,गौतम बुधनगर में 903 गाजियाबाद में 559 ,बरेली में 1041 झांसी में 634 मुरादाबाद में 546 आगरा में 1076 , मुजफ्फरनगर में 200 सहारनपुर में 280 लखीमपुर खीरी में 366, बलिया में 361 जौनपुर में 532 गाजीपुर में 395 बाराबंकी में 393 अयोध्या में 280 शाहजहांपुर में 381 चंदौली में 337, मथुरा में 351 रायबरेली में 331 प्रतापगढ़ में 360 बिजनौर में 321 मरीज मिले हैं. अन्य जिलों में 300 से कम मरीज पाए गए हैं. सबसे कम 40 मरीज कौशांबी में मिले हैं.

लखनऊ में 13, प्रयागराज में 21, कानपुर नगर में 13, वाराणसी में 14, मेरठ में आठ, गोरखपुर में 11 ,गौतम बुध नगर में 12 ,गाजियाबाद में 12 ,बरेली में दो, झांसी में आठ, मुरादाबाद में तीन,आगरा में 10, जौनपुर में चार, अलीगढ़ में तीन, बाराबंकी में तीन, रायबरेली में तीन, शाहजहांपुर में चार हरदोई में 15 इटावा में 8 बांदा में चार कन्नौज में 4 फतेहपुर में 4, चित्रकूट में तीन हमीरपुर में चार लोगों की मौत हुई है. अन्य जिलों में कहीं दो तो कहीं एक की मौत हुई है.



संबंधित लेख