राज्यवर्धन राठौर ने कहा- इंडिया फर्स्ट कहने वालों का बीजेपी में स्वागत, पद, पैसा और पावर को लेकर कांग्रेस के भीतर खींचतान

0

जयपुरः राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच जारी राजनीतिक तनातनी को लेकर भारतीय जनता पार्टी के सासंद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कांग्रेस नेतृत्व पर हमला बोला है. कांग्रेस पार्टी पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि जब आपके पास केंद्रीय नेतृत्व कमजोर होता है तो राज्यों के नेता वही करते हैं जो वह चाहते हैं. नेतृत्व कमजोर होने के बाद आप चाहे जो संदेश भेजें उसका असर प्रादेशिक नेताओं पर नहीं पड़ता है.

‘पद, पैसा और पावर को लेकर लड़ाई जारी’

राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि पिछले ढाई साल से राजस्थान कांग्रेस के अंदर पद, शक्ति और पैसे को लेकर कलह जारी है. उन्होंने कहा कि अनदरुनी कहल के कारण पार्टी के नेता कभी होटल में महीनों ठहरते हैं तो कभी फोन टैपिंग के लिए सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल करते हैं.

‘जो हाल राजस्थान में वही हाल पंजाब में’

कांग्रेस शासित अलग-अलग राज्यों का उदाहरण देते हुए राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि मौजूदा समय में राजस्थान और पंजाब दोनों का यही हाल है. उन्होंने कहा कि बिना विजन के नेता पार्टी छोड़ देंगे और विजन के साथ दूसरी पार्टी में शामिल होंगे.

‘इंडिया फर्स्ट कहने वालों का बीजेपी में स्वागत’

बीजेपी में अन्य दलों के नेताओं के शामिल होने को लेकर उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के द्वार उन सभी के लिए खुले हैं जो भारत को प्राथमिकता देते हैं और ‘इंडिया फर्स्ट’ कहने वाली विचारधारा पर चलते हैं.

मायावती ने कहा- लोगों में आक्रोश, महंगाई कम करने पर ध्यान दे सरकार