लखनऊ: उत्तर प्रदेश की 10 राज्यसभा सीट पर होने वाले राज्यसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी अपने तमाम विधायकों को एकजुट करने में जुटी है. इस बाबत बुधवार को सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की ओर से डिनर पार्टी का आयोजन किया गया. इस दौरान पार्टी के तमाम विधायकों ने शिरकत की. जिसमे अखिलेश यादव, चाचा शिवपाल यादव समेत निर्दलीय विधायक राजा भैय्या भी शामिल हुए.

अखिलेश यादव के रात्रिभोज में शिवपाल यादव व निर्दल विधायक रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया और विनोद सरोज के शामिल हो जाने से सपा समर्थकों के हौसले बढ़े और नितिन अग्रवाल की बगावत से मिला तनाव कुछ कम हुआ.

बुधवार को ताज होटल में आयोजित डिनर पर सबकी निगाहें लगी थी क्योंकि पार्टी दफ्तर में दोपहर को आयोजित बैठक में शिवपाल यादव व आजम खां समेत सात विधायक गैरहाजिर रहे थे परंतु रात्रिभोज में नजारा अलग था. सपा के विधायकों और विधान परिषद सदस्यों के अलावा प्रमुख नेताओं को भी न्योता भेजा गया था. भोज में आजम खां व उनके पुत्र अब्दुला के न आने की वजह रामपुर में व्यक्तिगत कार्य होना बताया गया.

भोज में पहुंचे शिवपाल यादव का उन युवा नेताओं ने भी गर्मजोशी से स्वागत किया जो उनके खिलाफ बीते दिनों कटु शब्दों का प्रयोग करने से भी परहेज नहीं करते थे. समाजवादी खेमे के लिए निर्दल राजा भैया और विनोद सरोज का रात्रिभोज में पहुंचना सुकून देने वाला रहा. राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश ने खुद माईक से राजा भैया और विनोद के आने व समर्थन देने की जानकारी देते हुए गैरहाजिर विधायकों के बारे में भी बताया.

Leave a Reply