पटना: पत्रकारों की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर बिहार सवालों के घेरे में है. बिहार के भोजपुर जिले में रविवार की रात को अपराधियों ने एक पत्रकार समेत दो लोगों को गाड़ी से कुचल कर मार डाला. हत्या में स्कॉर्पियो गाड़ी इस्तेमाल की गई थी.

भोजपुर जिले के गडहनी थाना क्षेत्र में बाइक सवार दो पत्रकारों को एक बेकाबू स्कॉर्पियो गाड़ी ने बुरी तरह से कुचल दिया. दोनों पत्रकारों की मौके पर ही मौत हो गई. यह घटना गडहनी इलाके के नहसी मोड़ के पास हुई. घटना के बाद गुस्साए ग्रामीणों ने गाड़ी को आग के हवाले कर दिया. वहीं ग्रामीण घटना में शामिल गडहनी के पूर्व मुखिया की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. मरने वाले पत्रकारों में एक अखबार के नवीन निश्चल और दूसरे पत्रिका के विजय सिंह हैं.

इस मामले में मौके पर मौजूद लोगों का कहना है कि ये कोई घटना नहीं है बल्कि साजिश है. लोगों ने बताया कि गड़हनी के पूर्व मुखिया शाहिदा प्रवीण के पति हरसू मियां से गड़हनी बाजार में थोड़ी नोंक झोक हुई थी. हत्या में इस्तेमाल की गई गाड़ी मुखिया का पति ही चला रहा था. घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने इस्तेमाल की गई गाड़ी को भी आग के हवाले कर दिया और फिर मौके से फरार हो गए. ग्रामीणों के मुताबिक, दोनों पत्रकार किसी काम से बाहर गए थे और अपने घर लौट रहे थे. इसी दौरान ये दर्दनाक हादसा हो गया. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है.

मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक, गडहनी के पूर्व मुखिया मोहम्मद हरसु के खिलाफ खबर लिखे जाने के कारण ये हत्या करवाई गई है. हालांकि, अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है. आपको बता दें कि बिहार में बीते कुछ समय में पत्रकारों पर हमले बढ़ते जा रहे हैं. इनमें पत्रकार राजदेव रंजन, समस्तीपुर के बृजकिशोर कुमार जैसे पत्रकारों की हत्या शामिल हैं.

Leave a Reply