छत्तीसगढ़: भूपेश बघेल का मंत्रिमंडल बनते ही कांग्रेस में सामने आई बगावत

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में सोमवार को भूपेश बघेल ने अपने मंत्रिमंडल का गठन तो कर लिया, लेकिन गठन होते ही कांग्रेस नेताओं के बीच बगावत सामने आई है. राजिम विधानसभा सीट से विधायक और कांग्रेस के दिग्गज नेता अमितेश शुक्ला ने मंत्री न बनाए जाने पर नाराजगी जाहिर की. दरअसल, छत्तीसगढ़ में कुल 9 मंत्रियों ने शपथ ली है, जिसमें अमितेश शुक्ला का नाम नहीं है.

Amitesh Shukla,Congress MLA,Chhattisgarh:I’ve come to know that my name is not in the list of people who’ll be taking take oath as cabinet ministers today.Our family has been associated with the Nehru-Gandhi family for the past 3 generations. I’ll always expect justice from them. pic.twitter.com/XZYEt9PIuL

— ANI (@ANI) December 25, 2018

 

वहीं अब तक कयास ये लगाए जा रहे थे कि नवनिर्वाचिक विधायक व पूर्व पंचायत मंत्री अमितेश शुक्ला को दोबारा कांग्रेस की नई सरकार के मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. अमितेश शुक्ला ने कहा कि ‘मेरा नाम शपथ लेने वाले मंत्रियों में नहीं है. मेरा परिवार नेहरु-गांधी परिवार की तीन पीढ़ियों के साथ जुड़ा रहा है. मैं उनसे हमेशा न्याय की उम्मीद करूंगा.’

मंत्री न बनाए जाने से अमितेश शुक्ला के समर्थक खासे नाराज हैं. दरअसल, इसलिए भी ऐसा कहा जा रहा है क्योंकि शुक्ला ने राजिम सीट से छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा मतों के अंतर से जीत दर्ज की है. साथ ही उनके परिवार और राजिम विधानसभा से कांग्रेस की जीत होने पर सालों से ये रिकॉर्ड रहा है कि जो भी यहां से जीत हासिल करता है, उसे कांग्रेस सरकार में मंत्री पद दिया जाता है.

Leave a Reply