नई दिल्ली: देश की राजधानी में चल रहे कांग्रेस के सबसे बड़े अधिवेशन की शुरुआत हो गई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने भाषण में मोदी सरकार पर जमकर बरसे. महाअधिवेशन में लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने अधिवेशन में कहा कि सिर्फ चाय वाला होने से कुछ नहीं होता, देश के लिए कुछ करना भी पड़ता है. आज देश में हर कोई परेशान है.

खड़गे ने शायराना अंदाज में कहा कि तीमीर (अंधकार) को रोशनी कहते हुए अच्छा नहीं लगता, मुझे गम को खुशी कहते हुए अच्छा नहीं लगता… लहूं इंसानियत का जो दिन-रात पीते हैं, आरएसएस-बीजेपी के लोग उनको इंसान कहते हुए मुझे अच्छा नहीं लगता. इस दौरान कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक बार फिर से कर्नाटक का चुनाव जीतेगी.

अधिवेशन में उन्होंने कहा कि यूपी के सीएम कर्नाटक में प्रचार कर रहे हैं, लेकिन अपना घर नहीं संभल रहा है. कांग्रेस के महाधिवेशन में लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ताओं की तरह वे भी कर्नाटक में घर-घर जाएं.

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा, ‘आपके आशीर्वाद और सहयोग से हम एक बार फिर से कर्नाटक में सरकार बनाएंगे’. कर्नाटक में इस साल विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं. बीजेपी ने कांग्रेस के हाथ से सत्ता छीनने के लिए पूरी ताकत लगा रखी है. इससे पहले कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा की अगुवाई में बीजेपी की ही सरकार थी, लेकिन भ्रष्टाचार के मामलों में घिरी इस सरकार को हराकर कांग्रेस ने वहां पर सत्ता हासिल की थी.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस के 84वें अधिवेशन के दूसरे दिन देशभर से करीब 12 हजार कांग्रेस के कार्यकर्ता हिस्सा लेने के लिए पहुंचे हैं. इस अधिवेशन में सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के सभी बड़े नेता मौजूद हैं. लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के ये अधिवेशन काफी अहम है. इसमें कई फैसले लिए जा सकते हैं. जिसमें यूपीए की ताकत भी बढ़ाना शामिल हैं.