Corona in Delhi: दिल्ली सरकार ने कॉमनवेल्थ विलेज में बनाया अस्पताल, फ्री में मिलेगी 436 बेड्स की सुविधा

0
Corona in Delhi: दिल्ली सरकार ने कॉमनवेल्थ विलेज में बनाया अस्पताल, फ्री में मिलेगी 436 बेड्स की सुविधा


Corona in Delhi: देश में जानलेवा कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप जारी है. राजधानी दिल्ली के अस्पतालों में बेड्स की किल्लत के बाद अब दिल्ली सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. दिल्ली सरकार ने कॉमनवेल्थ विलेज में अस्पताल बनाया है. इस अस्पताल में 436 बेड्स उपलब्ध हैं. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने खुद इसकी जानकारी दी है. दिल्ली में रिकॉर्ड संख्या में कोरोना के नए मामले दर्ज हो रहे हैं.

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा है, ‘’अक्षरधाम के पास कॉमनवेल्थ विलेज में दिल्ली सरकार ने अस्थायी कोरोना अस्पताल बनाया है. ये 436 बेड के साथ चालू है.’’ सिसोदिया ने कहा, ‘’यह सुविधा सभी के लिए खुली है और मुफ्त है. यह दिल्ली सरकार और ‘डॉक्टर्स फॉर यू’ की एक संयुक्त पहल है.’’

दिल्ली में एक दिन में कोरोना से रिकार्ड मौत

बता दें कि दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण से 240 लोगों की मौत हो गई, जो महामारी शुरू होने के बाद से अब तक संक्रमण से एक दिन में मौत का सर्वाधिक आंकड़ा है. इसके साथ ही राजधानी में संक्रमण के 23,686 नए मामले सामने आए, जिससे संक्रमण की दर 26.12 प्रतिशत हो गई है.

शहर में पिछले पांच दिन में संक्रमण से 823 लोगों की मौत हुई है. रविवार को दिल्ली में संक्रमण के 25,462 नए मामले सामने आए थे जो एक दिन में सर्वाधिक मामले थे और इस लिहाज से संक्रमण दर 29.74 प्रतिशत हो गई थी.

दिल्ली में दवाओं, बिस्तर, आईसीयू और ऑक्सीजन की गंभीर कमी

कोरोना के मद्देनजर दिल्ली में सोमवार रात दस बजे से 26 अप्रैल सुबह पांच बजे तक छह दिन का लॉकडाउन रहेगा. इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है, यहां दवाओं, बिस्तर, आईसीयू और ऑक्सीजन की गंभीर कमी है, ऐसे में स्वास्थ्य प्रणाली को ध्वस्त होने से बचाने के लिए लॉकडाउन बहुत आवश्यक है.

यह भी पढ़ें-

India Corona Cases Today: देश में पिछले 24 घंटों में सामने आए 2 लाख 59 हजार नए केस, रिकॉर्ड 1761 लोगों की मौत

Lockdown in Delhi: दिल्ली में लॉकडाउन शुरू, कश्मीरी गेट-राजीव चौक समेत कई मेट्रो स्टेशन्स पर एंट्री बंद

 



Source link