CBSE पेपर लीक मामले में दिल्ली क्राइम ब्रांच की छापेमारी शुरू

76

नई दिल्ली: सीबीएसई पेपर लीक मामले की जांच में जुटी दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की स्पेशल टीम ने 25 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की है. इसके साथ ही दिल्ली-एनसीआर में 10 से अधिक ठिकानों पर पुलिस ने छापेमारी की. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ने दो मामले दर्ज करके 12वीं कक्षा का अर्थशास्त्र का पेपर तथा 10वीं कक्षा का गणित का पर्चा कथित रूप से लीक होने के मामले की जांच शुरू कर दी.

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने कई इलाकों में बीती रात छापेमारी की है. इतना ही नहीं पुलिस ने इस मामले में करीब 25 लोगों से पूछताछ की है जिसमें अधिकतर छात्र हैं जिनके पास हाथ से लिखा प्रश्न पत्र था. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आनन-फानन में 10वीं की गणित व 12वीं की इकोनॉमिक्स की परीक्षा दोबारा कराने के फैसले से शिक्षक, अभिभावक और बच्चे हैरान हैं.

अभिभावक तो सीबीएसई के सिस्टम पर ही सवाल उठा रहे हैं. उधर, छात्र कह रहे हैं कि कुछ लोगों की गलती की सजा उन्हें भुगतनी पड़ेगी. पुलिस इस मामले में पता लगाने में जुटी है की आखिरकार ये पेपर कहां से लीक हुआ और व्हाट्सएप पर कैसे लोगों तक पहुंचा. पुलिस ने IPC की धारा 420, 468, 471 के तहत मामला दर्ज किया है.

अपराध शाखा के विशेष आयुक्त आर पी उपाध्याय और अपराध शाखा के संयुक्त पुलिस आयुक्त आलोक कुमार ने दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक से बुधवार शाम आगे की जांच पर चर्चा की. दिल्ली पुलिस ने एक बयान जारी करके कहा कि सीबीएसई के क्षेत्रीय निदेशक की शिकायत पर उन्होंने दो मामले दर्ज किए हैं. पहला मामला अर्थशास्त्र का पेपर लीक होने के संबंध में कल दर्ज किया था वहीं 10वीं का पेपर लीक होने का मामला दर्ज किया गया.

मामले की जांच के लिए विशेष जांच दल का गठन किया गया है जिसमें दो पुलिस उपायुक्त, चार सहायक पुलिस आयुक्त और पांच निरीक्षक शामिल हैं. यह दल संयुक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) की निगरानी में काम करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here