लखनऊ: उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने बड़ा दे दिया है.

उन्होंने बीजेपी नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा है, ‘मैंने अपनी चिंता कई बार जताई है लेकिन ये लोग 325 सीटें लेकर पागल होकर घूम रहे हैं.’. राजभर ने कहा कि वो एनडीए का हिस्सा हैं, लेकिन बीजेपी गठबंधन धर्म का पालन नहीं कर रही है.

राज्यसभा नामांकन में तवज्जो न दिये जाने पर सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी व प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर खफा हैं. उन्होंने कहा है कि राज्यसभा चुनाव में पार्टी के चार वोट कहां पड़ेंगे यह बाद में तय होगा. उन्होंने कहा है कि प्रदेश सरकार के 12 महीने में भाजपा ने एक बार भी गठबंधन धर्म निभाने की कोशिश नहीं की.

राज्यसभा प्रत्याशियों के नामांकन में पूछा तक नहीं. प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री अनिल राजभर के माध्यम से उन्हें बेइज्जत कराया जा रहा है. मंचों से वह अपशब्द बोल रहे हैं. वह भी ऐसे मंच पर जहां केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा उपस्थित रहते हैं.

राजभर ने कहा है कि भाजपा हमें खत्म करना चाहती है, हर भी बचने का प्रयास करेंगे. अनिल राजभर के साथ ही उन्होंने भाजपा के राज्यसभा प्रत्याशी सकलदेव राजभर का नाम भी लिया. कहा कि ये लोग राजभरों के नेता नहीं हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि फूलपुर और गोरखपुर उपचुनाव में सहयोग के लिए नहीं पूछा गया, रिजल्ट सामने है.

निकाय चुनाव के दौरान दो दिन पहले तक सीटों का बंटवारा नहीं किया. नतीजतन निकाय में गठबंधन नहीं हो सका. श्री राजभर ने कहा है कि वह चाहते हैं कि गठबंधन धर्म निभाएं, लेकिन भाजपा ही गठबंधन का धर्म नहीं निभा रही है. सरकार में शामिल सुलेदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख और कैबिनेट मंत्री ओपी राजभर ने सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

ओपी राजभर ने कहा कि, ‘सरकार सिर्फ मंदिरों पर केंद्रित है, गरीबों के कल्याण पर नहीं. उन्होंने कहा कि ये वही गरीब हैं जिन्होंने सरकार को वोट देकर सत्ता तक पहुंचाया. कहने को बहुत सारी बातें हो रही है, लेकिन जमीन पर थोड़ा बदलाव हुआ है’.

Leave a Reply