नई दिल्ली: अगर आप भी कुत्ते या बिल्ली जैसे पशु पालने के शौक़ीन हैं तो ये खबर आपके लिए है. दक्षिणी दिल्ली नगर निगम  ने एक ऐसा फैसला लिया है जिस पर अगर आपने ध्यान न दिया, तो आने वाले दिनों में आपको इसका ख़ामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है.

ये है मामला-

शुक्रवार को दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के सदन की बैठक में सर्वसम्मति से इस बात पर स्वीकृति दी गई कि पालतू पशुओं को खुले में शौच के लिए लाने वाले और इन पशुओं को वहां शौच कराते हुए पाए जाने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. लोगों में जागरूकता लाने के लिए इस पर 500 रु का जुर्माना भी तय किया गया है जो ऐसे मामलों में दोषी पाए जाने वाले लोगों पर लगाया जाएगा.

महापौर कमलजीत सहरावत ने बताया कि ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई किए जाने की आवश्यकता है. अभी के वक्त में ऐसे मामले में 500 रु का जुर्माना तय किया गया है. पालतू कुत्तों समेत पालतू पशुओं को खुले में शौच कराने पर मालिकों को ये जुर्माना देना होगा. सहरावत ने बताया कि देश की राजधानी में स्वच्छता सबसे बड़ी प्राथमिकता है, इसलिए पालतू पशुओं को खुले में शौच कराने से हतोत्साहित करने के लिए जुर्माना लगाना अत्यंत आवश्यक है.

इसके लिए पालतू जानवरों का पंजीकरण कराने की योजना भी बनाई जा रही है. कमलजीत सहरावत ने बताया कि पालतू पशु के गंदगी करने के बाद मालिक की जिम्मेदारी है कि वो कैसे उसे साफ करता है. गंदगी साफ करने की स्थिति में इस जुर्माने से बचा जा सकता है. सहरावत ने बताया कि निगम के सफाई कर्मचारी ही इसके लिए जुर्माना काटेंगे.

Leave a Reply