श्रीनगर: भारतीय सेना एक जॉइंट ऑपरेशन में एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. इस जॉइंट ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी मुफ्ती वकास को दक्षिण कश्मीर के अवंतीपुरा में मुठभेड़ में मार गिराया है.

सेना के अनुसार एक विशेष सूचना के आधार पर उसकी एक छोटी टीम ने विशेष अभियान समूह के साथ मिलकर अवंतीपुरा में हटवार इलाके को घेर लिया और एक घर पर ‘सर्जिकल हमला’ किया.

कौन है ये मुफ्ती वकास?

मुफ्ती वकास पिछले महीने हुए सुंजवां हमले का भी मास्टरमाइंड है. जिसमें एक सैन्य शिविर में हुई मुठभेड़ में सेना के छह जवान शहीद हुए थे और जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए थे.

सुंजवां हमले के साथ ही उसने कई अन्य आतंकवादी गतिविधियों को भारत में अंजाम दिया था. मुफ्ती वकास ने दिसंबर 2017 में पुलमावा जिले के लेथपोरा में पुलिस लाइन पर हुए हमले की साजिश भी रची थी. वहीं श्रीनगर एयरपोर्ट पर बीएसएफ कैंप पर हुए हमले में भी मुफ्ती वकास का हाथ था.

अधिकारियों के अनुसार 2017 में कश्मीर घाटी में घुस आया पाकिस्तानी नागरिक वकास आतंकी संगठन के ऑपरेशन कमांडर के तौर पर काम कर रहा था और उसने दक्षिण कश्मीर के त्राल से आत्मघाती हमलावरों को जम्मू भेजा था जहां उन्होंने 10 फरवरी को सेना के शिविर पर हमला किया था. हमले में 7 जवान शहीद हो गए थे.