अटल बिहारी वाजपेयी की आलोचना करने वाले प्रोफेसर की जमकर पिटाई, जिंदा जलाने की हुई कोशिश

5

पटना: बिहार में एक प्रोफेसर को सोशल मीडिया पर अटल बिहारी वाजपेयी की आलोचना करना महंगा पड़ गया. फेसबुक पर आलोचना किये जाने पर कथित तौर पर कुछ लोगों ने महात्मा गांधी केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर संजय कुमार की जमकर पिटाई कर दी और फिर उन्हें पेट्रोल से जलाने की कोशिश की.

इस संबंध में प्रो संजय कुमार ने कहा है कि ‘कुछ तत्व वीसी के खिलाफ बोलने के लिए मुझे लक्षित कर रहे हैं और यह एक और बहाना था.’

 

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इस मामले में 12 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. हालांकि प्रोफेसर के कुछ दोस्तों का कहना है कि पहले पुलिस ने शिकायत दर्ज करने से इनकार कर दिया था.

 

संजय कुमार ने अपने एक मित्र की फेसबुक पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए लिखा था, ‘अटल बिहारी वाजपेयी नेहरूवादी समाजवाद को मानने वाले नहीं थे, बल्कि वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रति हमेशा वफादार रहे. उन्होंने हमेशा दक्षिणपंथी एजेंडे को आगे बढ़ाने का काम किया.’ उन्होंने आगे लिखा था, ‘भारतीय फासीवाद का एक युग समाप्त हुआ. अटलजी अनंत यात्रा पर निकल चुके.’

यूनिवर्सिटी के एक कर्मचारी प्रमोद मीणा के मुताबिक संजय कुमार को पहले धमकी भरे फोन काल आए थे. इसके बाद दोपहर एक बजे 10 से 12 लोग उनके घर पर घुस आए और उन्हें जूतों और रॉड्स से मारने लगे. यहां तक कि पेट्रोल डालकर उन्हें जिंदा जलाने की कोशिश भी की गई. इसके बाद संजय के कुछ दोस्त और छात्र वहां पहुंचे और उन्हें बचाया गया. बताया जा रहा है कि घटना के बाद से यूनिवर्सिटी के समाजशास्त्र विभाग के तीसरे साल का एक छात्र अमित विक्रम कथित तौर पर गायब है. संजय के दोस्तों और छात्रों का कहना है कि उसे अगवा कर लिया गया है.

वहीं इस संबंध में प्रो. संजय कुमार ने आधा दर्जन लोगों को नामजद करते हुए करीब दो दर्जन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी है. उन्होंने कहा है कि पेट्रोल छिड़क कर जान मारने की नीयत से हमला किया गया है. हमलावरों ने घर से खींच कर डॉ डी नाथ आवास तक मारपीट करते हुए ले गये. इस संबंध में राहुल आर पांडेय, सन्नी वाजपेयी, अमन बिहारी वाजपेयी, पुरुषोत्तम मिश्र समेत करीब 20-25 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. प्रो. संजय ने बताया कि हमलावर कह रहे थे कि कुलपति, प्रो पवनेश, प्रो दिनेश का खिलाफत करते हो, सुधर जाओ, नहीं तो जान से मार देंगे. मामले में नगर इंस्पेक्टर आनंद कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here