andaman and nicobar

नई दिल्ली: केंद्र की मोदी सरकार अंडमान निकोबार के तीन द्वीपों के नाम बदलने जा रही है। इन तीन द्वीपों के नाम रॉस, नील और हैवलॉक हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रॉस द्वीप का नाम ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस’, नील द्वीप का नाम ‘शहीद’ और हैवलॉक द्वीप का नाम बदलकर ‘स्वराज’ रखा जाएगा।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को पोर्ट ब्लेयर की यात्रा पर निकलेंगे, और इसी दौरान पीएम मोदी अंडमान निकोबार के तीन द्वीपों के नाम बदलने की औपचारिक घोषणा करेंगे.

इन द्वीपों के बदले जाएंगे नाम

मोदी सरकार अंडमान निकोबार के तीन द्वीपों के नाम बदलने की तैयारी कर चुकी है. जानकारी के अनुसार गृह मंत्रालय की ओर से ये कहा गया है कि नाम बदलने को लेकर सारी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं. समाचार एजेंसी एएनआई  के मुताबिक रॉस द्वीप का नाम ‘नेताजी सुभाष चंद्र बोस’, नील द्वीप का नाम ‘शहीद’ और हैवलॉक द्वीप का नाम बदलकर ‘स्वराज’ रखा जाएगा.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह आज़ाद हिंद फौज के गठन की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर पोर्ट ब्लेयर में 150 मीटर ऊचां राष्ट्रीय ध्वज लहराएंगे.

30 दिसंबर की तारीख काफी महत्वपूर्ण

इतिहास के पन्नों में 30 दिसंबर की तारीख काफी महत्वपूर्ण है. सन् 1943 में 30 दिसंबर  को ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने पोर्ट ब्लेयर में भारतीय झंडा फहराया था. माना जाता है की पोर्ट ब्लेयर पहला क्षेत्र था जो ब्रिटिश शासन से मुक्त हुआ था.

Leave a Reply