नई दिल्ली: भारत के साथ राजनियकों से बदसलूकी को लेकर जारी तनाव के बीच पाकिस्तान लगातार पैंतरेबाजी करने में लगा है. राजनयिक को मीटिंग के लिए इस्लामाबाद बुलाने के बाद अब पाकिस्तान ने नया एजेंडा शुरू किया है. पाकिस्तान ने नई दिल्ली में होने वाले वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गनाइजेशन के समिट में शामिल होने से इनकार कर दिया है.

इस्लामाबाद स्थित भारतीय राजनयिकों को प्रताड़ित करने वाले पाकिस्तान ने उल्टे भारत पर आरोप लगाते हुए कहा कि डिप्लोमैट्स के साथ दुर्व्यवहार के विरोध में हम यह कदम उठा रहे हैं. पाकिस्तान जहर उगलते हुए कहा कि भारत हमें हल्के में नहीं ले सकता. वह कश्मीरियों को मारना चाहते हैं, डिप्लोमैट्स का उत्पीड़न किया जा रहा है. पाक के खिलाफ साजिश रची जाती है और फिर हमें आमंत्रित किया जा रहा है.’

पाकिस्तानी अखबार ‘द नेशन’ की राजनयिक सूत्रों के हवाले से प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि डब्ल्यूटीओ की मीटिंग में पाक से कोई प्रतिनिधि नहीं जाएगा. पाक के एक सीनियर अधिकारी ने अखबार से कहा कि हमने इस संबंध में भारत को बता दिया है. हम अपने वाणिज्य मंत्री को भारत नहीं भेज रहे हैं.

दिल्ली में 19-20 मार्च को डब्ल्यूटीओ समिट का आयोजन है, जिसके लिए भारत ने पाकिस्तान को भी न्योता दिया था. आपको बता दें कि पाकिस्तान से आये दिन भारतीय राजनियकों के बच्चों का स्कूल आते-जाते रास्ता रोकने, राजनियकों के आवास के पानी और बिजली कनेक्शन काटने जैसी हरकतें सामने आ रही थीं. लेकिन पाकिस्तान ने उल्टा भारत पर ही अपने राजनयिकों को प्रताड़ित करने का आरोप लगा दिया.

Leave a Reply