सीतापुर: स्कूल में काम कर रहे चार मजदूरों की आज करंट लगने से मौत हो गई. इस घटना के बाद से सीतापुर में सनसनी फैल गई है. हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से चार मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीन घायल है.

सीतापुर जिले के कमलापुर इलाके में सोमवार सुबह एक प्राइवेट स्कूल में बाउंड्रीवॉल का निर्माण कर रहे मजदूर हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गए. करंट लगने से चार मजदूरों की मौत हो गई जबकि एक मजदूर झुलस गया. गनीमत ये रही कि जिस समय ये हादसा हुआ, बच्चे क्लास रूम में थे.

उधर, हादसे से गुस्साए मृतकों के परिवारीजनों से ग्रामीणों संग मिलकर स्कूल के सामने मार्ग जाम कर दिया है. मलापुर थानाक्षेत्र में आईटी कंपनी एचसीएल द्वारा संचालित विद्याज्ञान स्कूल है. स्कूल में अभी परीक्षाएं चल रही है. सोमवार सुबह एसेंबली होने के बाद स्टाफ और बच्चे क्लास रूम में चले गए.

दरअसल,  स्कूल के पीछे के हिस्से में बाउंड्री वॉल का निर्माण चल रहा है. इसके निर्माण कार्य में क्षेत्र के मजदूर लगे हैं. बाउंड्री वॉल बनाने के लिए मजदूरों ने लोहे के पाइप के सहारे मचान बना रखी थी. इसी स्थान से हाईटेंशन लाइन भी गुजर रहे है. करीब 9 बजे मजदूर जब मचान को उठाकर दूसरी जगह पर रख रहे थे तभी पाइप हाईटेंशन लाइन से छू गई.

करंट लगने से चार मजदूर पाइप से ही चिपक गए. आसपास के लोगों ने किसी तरह उन्हें छुड़ाकर अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया. मरने वाले सभी मजदूर कमलापुर थाना क्षेत्र के ही अलग-अलग गांव के निवासी हैं.

मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं, हादसे की सूचना पर मृतकों के परिवारीजन और ग्रामीण भी स्कूल के सामने इकट्ठा हो गए और मार्ग जाम कर प्रदर्शन करने लगे. पुलिस उन्हें शांत कराने का प्रास कर रही है लेकिन ग्रामीण अभी तक माने नहीं हैं.

Leave a Reply