T20 क्रिकेट में फ्रेडरिक ओवरडिक ने रचा इतिहास, एक पारी में 7 विकेट लेने वाली पहली खिलाड़ी बनी

0

टी20 क्रिकेट में नीदरलैंड की तेज गेंदबाज फ्रेडरिक ओवरडिक ने इतिहास रच दिया है. महज 21 साल की उम्र में फ्रेडरिक टी20 क्रिकेट का सबसे बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम करने में कामयाब हुई हैं. फ्रेडरिक ओवरडिक पहली ऐसी खिलाड़ी हैं जिन्होंने एक टी20 मुकाबले में सात विकेट हासिल किए. फ्रेडरिक के ऐतिहासिक प्रदर्शन की बदौलत नीदरलैंड की टीम फ्रांस को 9 विकेट से हराने में कामयाब रही. 

फ्रांस ने नीदरलैंड के खिलाफ खेले घए मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था. लेकिन आईसीसी की ओर से आयोजित यूरोपीय टी20 वर्ल्ड कप क्वालिफायर में फ्रांस का यह फैसला गलत साबित हुआ. फ्रांस की पूरी टीम 17.3 ओवर में महज 33 रन पर ही ऑलआउट हो गई. फ्रेडरिक ने चार ओवर गेंदबाजी करते हुए महज तीन रन दिए और सात बल्लेबाजों को पवेलियन भेजने का काम किया.

फ्रेडरिक ने हालांकि नीदरलैंड के लिए बेहद ही आसान जीत का रास्ता बना दिया. नीदरलैंड की टीम ने 34 रन के लक्ष्य को सिर्फ 21 गेंद में ही हासिल कर लिया. नीदरलैंड को हालांकि एक विकेट गंवाना पड़ा. फ्रेडरिक को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.

पहली बार किसी खिलाड़ी ने लिए सात विकेट

यह पहला मौका है जब कोई खिलाड़ी टी20 मैच के दौरान सात विकेट हासिल करने में कामयाब हुआ है. इससे पहले पुरुष या महिला टी20 मुकाबलों में कोई भी खिलाड़ी अधिकतम 6-6 विकेट ही हासिल कर पाया था. फ्रेडरिक अब टी20 क्रिकेट के इतिहास की सबसे सफल गेंदबाजी का रिकॉर्ड अपने नाम करने में कामयाब हुई हैं.

इससे पहले एक मैच में सबसे सफल गेंदबाजी का रिकॉर्ड नेपाल की अंजली चंद के नाम था जिन्होंने 2.1 ओवर में बिना कोई रन खर्च किए 6 विकेट हासिल किए थे. अंजली के अलावा 6 और महिला क्रिकेटर एक मैच में 6 विकेट लेने में कामयाब रही हैं. भारत की झूलन गोस्वामी का नाम भी इस लिस्ट में शुमार है जिन्होंने 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह कारनामा किया था. 

IND Vs ENG: जो रूट ने लगातार तीसरा शतक जड़ लगाई रिकॉर्ड्स की झड़ी, यह बड़ा मुकाम भी दूर नहीं