मोदी जी को एक किताब और लिखनी चाहिए, नाम रखना चाहिए “साक्षरता वॉरियर”

63

पीएम मोदी ने एक किताब लिखी है. नाम है ‘एग्जाम वॉरियर’. इसका प्रकाशन पेंग्विन रेंडम हाउस ने किया है. इस किताब को लांच भी कर दिया गया है. कहा जा रहा है कि इस किताब में पीएम जी ने एग्जाम की टेंशन को दूर करने के लिए 25 मंत्र दिए हैं.

इस 25 मंत्रों वाली किताब में पीएम मोदी ने बताया है कि छात्रों को एग्जाम किसी त्योहार और उत्सव की तरह सेलिब्रेट करना चाहिए. स्टूडेंट को पहले अपनी ताकत को पहचानना चाहिए, एक बार वह ऐसा करने में कामयाब हो जाएंगे तो नंबरों की फिक्र अपने आप दूर हो जाएगी.

अपनी इस किताब में मोदी जी ने युवाओं के लिए लिखा है कि किसी को धोखा देना सबसे सस्ता काम है, अभी तुम्हारा समय है इसका भरपूर इस्तेमाल करें, छात्रों को अपना एक टाइम टेबल बनाना चाहिए और उसको फॉलो भी करना चाहिए.

मोदी जी छात्रों से तो कह दिया टाइम टेबल बनाने लिए, लेकिन अपने छात्रों (नेता,मंत्री, मुख्य मंत्री) को कब टाइम टेबल का पाठ पढ़ाएंगे. जानकारी के लिए बता दूं अपना देश साक्षरता के मामले बहुत पीछे है. एशिया के टॉप 20 देशों में भारत का कहीं नाम ही नहीं है. अपने देश में 30 फीसदी जनता अब भी अनपढ़ है. मोदी जी को एक किताब लिखना चाहिए. नाम रखना चाहिए “साक्षरता वॉरियर”. क्यों कि जब लोग पढ़ेगें ही नहीं तो एग्जाम कहां से देंगे.

आज हम आपको देश के सभी राज्यों की साक्षरता के हालात बता देते हैं. खुद देख लिए साक्षरता के मामले में कौन सा राज्य कहां खड़ा है.

देखने के लिए click here

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here