यूपी में आंधी ने तबाह की फसलें

120

लखनऊ: शुक्रवार की देर शाम आई आंधी-बारिश ने जिले में खूब तबाही मचाई. यूपी के कई जिलों में तेज आंधी व बारिश से लोगों की आफत आ गई. जिले भर में किसानों की कमर टूटने के कगार पर पहुंच गई. खेतों में खड़ी व कटी पड़ी फसल बर्बाद हो गई. वहीं जिले भर में विद्युत व्यवस्था पूरी तरह ठप हो गई, जबकि संचार व्यवस्था भी लड़खड़ा गई. होर्डिंग्स हवा में उड़ गए.

कई जगह पर बिजली के पोल व पेड़ गिरने से यातायात व्यवस्था प्रभावित हुई. पोल गिरने से एक बाइक सवार घायल हो गया. दीवार गिरने से तीन लोग दब गए, जिसमें एक महिला की मौत हो गई. तेज अंधड़ के चलते हरदुआगंज में सैकड़ों बीघे में लगी गेहूं की फसल जलकर राख हो गई.

वहीं शहर के रजानगर में कब्रिस्तान की दीवार गिरने से एक युवक की मौत हो गई. आंधी-बारिश से कई स्थानों पर तार टूट गए. समूचा महानगर देर रात तक अंधेरे में डूबा हुआ था. वहीं, इस आफत से शहर की सूरत बिगड़ गई. बारिश से हुए जलभराव ने लोगों के लिए इस आफत को और दुगुना कर दिया.

हापुड़ के धौलाना में तेज आंधी में दीवार के सहारे छिपे तीन लोगों के ऊपर दीवार गिर गई, जिससे गांव कंदौला निवासी भानमती की मौके पर ही मौत हो गई. उधर, आगरा मंडल में 75 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से धूलभरी आंधी चली. तेज बारिश शुरू हो गई. ग्रामीण इलाकों में बड़े आकार के ओले गिरे.

मथुरा, फीरोजाबाद में भी तेज आंधी और बरसात हुई. ज्यादातर खेतों में गेहूं की फसल खड़ी या कटी रखी है. ओलों और तेज बरसात के चलते फसल को नुकसान हुआ है. बागपत में पेड़ गिरने से यातायात बाधित हो गया. बुलंदशहर में बारिश हुई. कुछ स्थानों पर ओले भी गिरे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here