लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मध्य प्रदेश में फंसे करीब 4 हजार श्रमिकों को यूपी वापस लाने की बात कही है।मुख्यमंत्री योगी ने कहा- ये बिमारी किसी का चेहरा, जाति या धर्म नहीं देखती। सावधानी हटी, दुर्घटना घटी। मैं धन्यवाद देता हूं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को, जिन्होंने 135 करोड़ लोगों की भलाई के लिए समय पर कदम उठाए।

देश में मार्च प्रथम सप्ताह में ही अलर्ट जारी हो गया था। इसी के कारण भारत इस महामारी की चपेट में आने से बचा है। जहां भी लापरवाही बरती वहां संक्रमण उतनी ही तेजी से फैला है। 200 से ज्यादा देश वर्तमान में कोरोना संक्रमण की चपेट में हैं। दुनिया की वे ताकतें जो अपने आप को सर्वशक्तिमान मानते थे, उनकी स्थिति आप देख सकते हैं।

बता दें CM योगी  ने मंगलवार की शाम राजस्थान के कोटा से वापस अपने घर आए छात्र-छात्राओं से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए संवाद स्थापित किया। योगी ने छात्रों को होम क्वारैंटाइन का पूरी तरह से पालन करने व ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली से तैयारी करने का सुझाव दिया।

योगी ने इस दौरान बच्चों से हल्के फुल्के अंदाज में कहा- आप घर अपनों के बीच पहुंच गए, लेकिन हमारा किराया नहीं दिया। यह सुनते ही माहौल हंसी-खुशी में तब्दील हो गया। मुख्यमंत्री ने कहा- आप सभी पढ़ लिखकर जीवन में कुछ कर जाएं, यही हमारा किराया होगा।

Leave a Reply